India vs Australia, 1st Test: We expected better performance from our lower order, say Sanjay Bangar
Mohammed Shami (Getty Images)

भारतीय टीम के बल्लेबाजी कोच संजय बांगड़ का मानना है कि टीम इंडिया के निचले बल्लेबाजी क्रम में सुधार क्रम में सुधार की जरूरत है। एडिलेड ओवल में चल रहे पहले टेस्ट के चौथे दिन भारत के आखिरी पांच विकेट सिर्फ 25 रन पर गंवाएं, जिससे टीम दूसरी पारी में 307 रन पर ऑलआउट हो गई। बांगड़ ने कहा कि उन्हें निचले क्रम से 25 और रन बनाने की उम्मीद थी।

बांगड़ ने कहा, ‘‘हमें कम से कम 25 और रन की उम्मीद थी। ये ऐसा विभाग हैं, जिसमें हम लगातार सुधार की कोशिश कर रहे हैं। उम्मीद करते हैं कि निचला क्रम खासकर नौवें, 10वें और 11वें नंबर के बल्लेबाज आज की तुलना में बेहतर जज्बा दिखाएंगे।’’

मनीष पांडे ने जड़ा शतक, दूसरा वनडे जीत इंडिया ए ने किया सीरीज पर कब्‍जा

उन्होंने आगे कहा, ‘‘ऋषभ पंत जब बल्लेबाजी के लिए आया तो हमारा स्कोर 260 रन के आस पास था। उसने तुरंत दबाव कम किया और तेजी से 30-35 रन बने। एक बार उसके हमें इस स्थिति में लाने के बाद, हमें उम्मीद की थी कि वो बेहतर रुख और रणनीति के साथ खेलेगा। लेकिन आप उसके अंदर की निडरता को नजरअंदाज नहीं करना चाहोगे। टर्न लेती गेंद के खिलाफ उस तरह की बाउंड्री बेहतरीन शॉट थे, वो ऐसे शाट थे जो साहसी खिलाड़ी खेलते हैं।’’

इस बार पार करेंगे जीत की रेखा

बांगड़ को खुशी है कि चेतेश्वर पुजारा और अजिंक्य रहाणे ने सीरीज की काफी अच्छी शुरुआत की जबकि इससे पहले उन्होंने दक्षिण अफ्रीका और इंग्लैंड में काफी मुश्किल हालात में बल्लेबाजी की। कोच ने कहा, ‘‘लोगों को समझना होगा कि उन मैचों में गलती की गुंजाइश काफी कम थी। केपटाउन से लेकर ओवल तक हार का अंतर काफी कम था। हमने स्वयं को मजबूत स्थिति में रखा। दुर्भाग्य से हम मैच को अंजाम तक नहीं पहुंचा पाए लेकिन एक टीम के रूप में हमें लगता है कि हम काफी प्रतिस्पर्धी थे। अब हमें जीत की रेखा पार करनी होगी।’’

खराब गेंदबाजी के लिए मैक्‍ग्रा ने लगाई मिशेल स्‍टार्क की क्‍लास, कही ये बात

बांगड़ ने कहा कि पिछले दौरों पर हालात काफी कड़े थे और कभी कभी आलोचना अनुचित थी। उन्होंने कहा, ‘‘हमें मुश्किल हालात का सामना करना पड़ा लेकिन यहां उन्होंने अच्छी शुरुआत की। जब हम यहां एडिलेड पहुंचे तो ये माना जा रहा था कि ये बल्लेबाजी के अनुकूल पिच होगी।’’ बांगड़ ने रहाणे और पहली पारी में शतक जड़ने वाले पुजारा की जमकर तारीफ की।

बड़े शतक के करीब हैं रहाणे

बांगड़ ने कहा कि रहाणे पिछले दौरों पर अच्छी बल्लेबाजी कर रहे थे और वो एक बार फिर बड़ा शतक जड़ने के करीब हैं। उन्होंने कहा, ‘‘हम आम तौर पर ये बल्लेबाज पर छोड़ देते हैं कि वो नाइट वाचमैन चाहता है या नहीं। वो मैदान पर उतरने के लिए बेताब था (दूसरी पारी में तीसरे दिन के अंत में) और क्रीज पर जाना चाहता था। जहां तक उसकी फार्म का सवाल है उसने वेस्टइंडीज के खिलाफ और इंग्लैंड में तीसरे, चौथे और पांचवें टेस्ट में रन बनाए। बस शतक उससे दूर रहा।’’

कोच ने दूसरी पारी में बेहतर प्रदर्शन करने के लिए शीर्ष क्रम की भी तारीफ की। उन्होंने कहा, ‘‘दूसरी पारी में हमारी शुरुआत बेहतर रही। इससे हमें आधार मिला। हमें सलामी जोड़ीदारों से यही उम्मीद थी।’’

ऑस्ट्रेलिया ने नहीं मानी हार, नाथन लियोन ने कहा ‘अब भी जीत सकते हैं एडिलेड टेस्ट’

इंग्लैंड दौरे के बीच में टीम से बाहर किए जाने के बाद वापसी कर रहे सलामी बल्लेबाजी मुरली विजय के संदर्भ में उन्होंने कहा, ‘‘वो टीम योजना का हिस्सा है। हम उसके अनुभव और अनुशासन का उपयोग करना चाहते हैं। नई गेंद के खिलाफ खेलते हुए और ऑस्ट्रेलिया के अटैक के स्तर को देखते हुए हमें शीर्ष क्रम से लगातार अच्छी शुरुआत की जरूरत है। इसलिए सलामी बल्लेबाजों और तीसरे नंबर के बल्लेबाज को बड़ी भूमिका निभानी होगी।’’