हार्दिक पांड्या © Getty Images
हार्दिक पांड्या © Getty Images

ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ खेले जा रहे दूसरे वनडे मैच में भारतीय खिलाड़ियों के साथ-साथ प्रशंसकों की सांसें तब अटक गईं जब भुवनेश्वर कुमार का एक तेज शॉट हार्दिक पांड्या के हेलमेट पर लग गया। शॉट इतना तेज था कि गेंद जैसे ही पांड्या के हेलमेट पर लगी वो मैदान पर ही गिर पड़े। दरअसल, भारतीय पारी के 47वें ओवर में नाइल गेंदबाजी कर रहे थे और स्ट्राइक पर थे भुवनेश्वर कुमार। चौथी गेंद पर भुवनेश्वर ने सीधा शॉट खेला। शॉट इचना तेज था कि दूसरे छोर पर खड़े पांड्या खुद को गेंद की लाइन से अलग नहीं कर पाए और गेंद सीधा उनके हेलमेट पर लगी।

गेंद लगने के बाद पांड्या मैदान पर ही गिर गए और सारे ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ी पांड्या के पास खड़े हए गए। इसी दौरान भारतीय फिजियो भी मैदान पर आ गए। हालांकि थोड़ी ही देर में पांड्या फिर से खेलने के लिए तैयार हो गए। पांड्या जैसे ही दोबारा खेलने के लिए तैयार हुए वैसे ही दर्शकों ने चिल्लाकर उनका हौसला बढ़ाया। साफ था कि पांड्या चोटिल होने से बाल-बाल बच गए। पांड्या अगर चोटिल हो जाते तो भारत को बड़ा झटका लग सकता था। ये भी पढ़ें: विराट कोहली के रन ‘चुराने’ के से भड़क गए ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ी

48वें ओवर में पांड्या को जीवनदान भी मिला। पांड्या रिचर्डसन की गेंद पर स्मिथ को कैच थमा बैठे थे लेकिन अंपायर ने उस गेंद को नो बॉल करार दे दिया और पांड्या आउट होने से बाल-बाल बच गए। इसी ओवर में बारिश ने मैच में खलल डाला लेकिन थोड़ी ही देर में मैच फिर से शुरू हो गया। पांड्या 20 रन बनाकर आउट हुए। भारत ने की पारी 49.5 ओवरों में 252 पर ऑल आउट हो गई। इससे पहले विराट कोहली अपने 31वें शतक से सिर्फ 8 रन से चूक गए और 92 रन बनाकर आउट हो गए। कोहली को कूल्टर नाइल ने बोल्ड कर उनके 31वें शतक के सपने पर पानी फेर दिया।