© Getty Images
© Getty Images

ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ दूसरे वनडे में टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली शतक से चूक गए। विराट कोहली ने 92 रनों की पारी खेली। अगर विराट कोहली शतक लगा लेते तो वो सबसे ज्यादा वनडे शतक लगाने के मामले में रिकी पॉन्टिंग को पीछे छोड़ देते, लेकिन ऐसा हो नहीं सका। कूल्टर नाइल की गेंद पर विराट कोहली बोल्ड हो गए। वैसे कूल्टर नाइल के अलावा बाएं हाथ के स्पिन गेंदबाज एस्टन एगर के रूमाल ने भी विराट कोहली को शतक बनाने से रोका।

दरअसल 34वें ओवर की पहली गेंद पर एगर ने विराट कोहली को गेंद फेंकी जिसपर उन्होंने जबर्दस्त लेट कट शॉट खेला, इस पर विराट को 4 रन मिले। लेकिन अंपायर अनिल चौधरी ने इस गेंद को रद्द कर दिया क्योंकि गेंद फेंकने के दौरान एस्टन एगर का रुमाल जमीन पर गिरा था। अंपायर के इस फैसले से विराट मुस्कुराने लगे। अगर विराट को ये चौका मिलता तो वो शतक के और करीब होते और क्या पता वो शतक भी लगा लेते।

डेड बॉल का कानून

आखिर अंपायर किसी भी गेंद को डेड बॉल कब करार दे सकता है इसका जिक्र एमसीसी के कानून 23.4 में है। कानून के मुताबिक गेंद को तब रद्द किया जाता है जब गेंद को खेल रहा बल्लेबाज का ध्यान भटके। कानून 42.4 के लिहाज से स्ट्राइकर का ध्यान जानबूझकर भटकाया गया तो इस गेंद को नहीं गिना जाता। गेंदबाज ने गेंद डालने से पहले ही गलती से गेंद गिरा दी तो ये गेंद भी डेड बॉल होती है। हैट्रिक लेने से पहले एमएस धोनी ने कुलदीप यादव से कही थी ये बात]