केएल राहुल  © AFP
केएल राहुल © AFP

ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ बैंगलुरू टेस्ट की तीसरी पारी में बल्लेबाजी करने उतरे केएल राहुल ने जोश हेजलवुड की गेंद पर बैकवर्ड प्वाइंट में दो रन लेते हुए जैसे ही 29 रनों के व्यक्तिगत स्कोर का आंकड़ा छुआ उन्होंने अपने टेस्ट करियर में 1,000 रन पूरे कर लिए। वह टेस्ट क्रिकेट में 1,000 रन पूरे करने वाले 64वें भारतीय बल्लेबाज और छठवें कर्नाटक के बल्लेबाज बन गए हैं। इस मैच के पहले राहुल को अपने टेस्ट क्रिकेट में 1,000 रन पूरे करने के लिए 119 रनों की दरकार थी। उन्होंने पहली पारी में 90 रन बनाए थे और दूसरी पारी में 29वां रन बनाते ही उन्होंने ये कारनामाअपने नाम कर लिया। टेस्ट में 1,000 रन पूरे करने वाले राहुल 19वें भारतीय ओपनर बन गए हैं। उनका औसत इस दौरान 45.45 का है। इस तरह वह सुनिल गावस्कर (50.29) और वीरेंद्र सहवाग (50.14) से ही पीछे हैं। भारत बनाम ऑस्ट्रेलिया, दूसरे टेस्ट का लाइव स्कोरकार्ड पढ़ने के लिए क्लिक करें…

राहुल ने साल 2014 में अपने टेस्ट करियर का आगाज किया था। वह अब तक कुल 15 टेस्ट खेल चुके हैं। इस दौरान उन्होंने 25 पारियों में बल्लेबाजी करते हुए 1,009* रन बनाए हैं। इस दौरान उन्होंने 4 शतक और 4 अर्धशतक जड़े हैं। वर्तमान सीरीज में केएल राहुल ने भारत की ओर से सर्वाधिक दो अर्धशतक जड़े हैं। उनके अलावा अन्य कोई भारतीय बल्लेबाज अर्धशतक जड़ने में कामयाब नहीं हुआ है। खबर लिखे जाने तक भारतीय टीम ने अपनी दूसरी पारी में एक विकेट के नुकसान पर 83 रन बना लिए थे। और अभी भी उस पर 4 रनों की लीड बची हुई है। इस पारी में ऑस्ट्रेलियाई फील्डरों ने काफी कैच छोड़े हैं। अब ये देखना दिलचस्प होगा कि टीम भारतीय पारी कहां तक जा पाती है। इससे पहले आज सुबह ऑस्ट्रेलिया टीम अपनी पहली पारी में 276 रनों पर ऑलआउट हो गई थी। टीम इंडिया ने अपनी पहली पारी में 189 का स्कोर बनाया था।