रोहित शर्मा और ग्लेन मैक्सवेल  © Getty Images
रोहित शर्मा और ग्लेन मैक्सवेल © Getty Images

भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच खेले जा रहे तीसरे वनडे मैच में कंगारुओं की जीत लगभग तय है। ऐसा हम इसलिए कह रहे हैं क्योंकि दोनों टीमों के बीच किसी भी सीरीज के तीसरे मैच में आंकड़े ऑस्ट्रेलिया के साथ हैं। दोनों के बीच जब भी सीरीज का तीसरा मैच होता है तो उस मैच में ऑस्ट्रेलिया भारत पर हावी रहा है। अब तक दोनों के बीच 9 बार सीरीज के तीसरे मैच में ऑस्ट्रेलिया ने 7 बार भारत को हराया है और सिर्फ 2 बार टीम इंडिया ने बाजी मारी है। इसके अलावा आखिरी दोनों बार सीरीज के तीसरे मैच में ऑस्ट्रेलिया ने भारत को मात दी है। इस लिहाज से इंदौर में खेले जा रहे तीसरे मुकाबले में भी ऑस्ट्रेलिया की जीत लगभग तय नजर आ रही है।

2015 के बाद घर पर चेज करने के दौरान अच्छा नहीं है भारत का रिकॉर्ड: विराट कोहली को भले ही चेजिंग मास्टर कहा जाता हो लेकिन साल 2015 के बाद घर पर चेजिंग करने की बात करें तो टीम इंडिया का रिकॉर्ड बेहद खराब रहा है। साल 2015 के बाद टीम इंडिया ने पहले गेंदबाजी करते हुए कुल 9 मैच खेले हैं। इस दौरान टीम को 6 मैचों में हार मिली है और सिर्फ 3 मैचों में ही टीम जीत दर्ज कर सकी है। इसके अलावा आखिरी मैच में पहले गेंदबाजी करते हुए टीम को हार मिली है। ये भी पढ़ें: पहले बल्लेबाजी करते हुए ऑस्ट्रेलिया ने छू लिया ‘500 का आंकड़ा’

तीसरे वनडे मैच में ऑस्ट्रेलिया ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया। ऑस्ट्रेलिया के ओपनिंग बल्लेबाज डेविड वॉर्नर और एरन फिंच ने टीम को बेहतरीन शुरुआत दिलाई और टीम के स्कोर को 50 रन के पार पहुंचा दिया। खबर लिखे जाने तक ऑस्ट्रेलिया का स्कोर 52 रन हो गया था और भारत को अब तक कोई सफलता नहीं मिल सकी है। दोनों टीमों के लिए तीसरा मैच बेहद अहम है। भारत अगर इस मुकाबले को जीत लेता है तो वो सीरीज को अपने नाम कर लेगा और अगर ऑस्ट्रेलिया इस मैच को जीत लेता है तो वो सीरीज में वापसी करने में कामयाब हो जाएगा।