महेंद्र सिंह धोनी 100 अंतर्राष्ट्रीय वनडे स्टंपिंग पहले ही पूरी कर चुके हैं © Getty Images
महेंद्र सिंह धोनी 100 अंतर्राष्ट्रीय वनडे स्टंपिंग पहले ही पूरी कर चुके हैं © Getty Images

भारत बनाम ऑस्ट्रेलिया तीसरे वनडे में महेंद्र सिंह धोनी ने एक और कीर्तिमान हासिल किया। धोनी ने भारत के लिए वनडे में 100 स्टंपिंग पूरी कर ली हैं। इंदौर वनडे में युजवेंद्र चहल के ओवर में ग्लेन मैक्सवेल को स्टंप आउट करने के साथ ही धोनी अपनी टीम के लिए 100 वनडे स्टंपिंग करने वाले दुनिया के पहले विकेटकीपर बन गए। धोनी के अलावा कोई भी विकेटकीपर अपनी टीम के लिए 100 वनडे स्टंपिंग नहीं कर पाया है। धोनी ने 2004-17 तक भारत के लिए खेले 301 वनडे मैचों में ये कीर्तिमान हासिल किया है। अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट में माही का ये 750वां डिसमिसल है, मार्क वाउचर (998) और एडम गिलक्रिस्ट (905) के बाद सभी फॉर्मेटों में सबसे ज्यादा डिसमिसल करने की सूची में धोनी तीसरे स्थान पर आ गए हैं।

धोनी ने हाल ही श्रीलंका के दौरे पर अपनी 100 अंतर्राष्ट्रीय वनडे स्टंपिंग पूरी की थी। धोनी ने 304 अंतर्राष्ट्रीय वनडे मैचों में विकेट के पीछे 103 शिकार किए हैं। इसमें से 3 मैच धोनी ने एशिया इलेवन टीम के लिए खेले थे। भारतीय टीम के पूर्व कप्तान ने 24 सितंबर के दिन ये बड़ा कीर्तिमान हासिल किया है जो कि उनके लिए बहुत खास है। साल 2007 में आज के ही दिन धोनी ने अपनी कप्तानी में टीम इंडिया को पहला आईसीसी टी20 विश्व कप जिताया था। धोनी ने एक नए और अनजाने फॉर्मेट में एक युवा टीम का नेतृत्व किया और उन्हें विश्व विजेता बनाया था। [ये भी पढ़ें: इंदौर वनडे, लाइव ब्लॉग: ऑस्ट्रेलिया 250 के पार, हैंड्सकॉम्ब-स्टोइनिस क्रीज पर]

फिलहाल इंदौर के होल्कर स्टेडियम में खेले जा रहे तीसरे वनडे मैच में भारत ने वापसी कर ली है। अच्छी शुरुआत मिलने के बाद 400 की ओर बढ़ रही कंगारू टीम की रफ्तार पर भारतीय गेंदबाजों ने रोक लगा दी है। 224 के स्कोर पर केवल 2 विकेट खोने के बाद ऑस्ट्रेलियाई पारी लड़खड़ा गई, इस समय मेहमान टीम 260 पर पांच विकेट खोकर बल्लेबाजी कर रही है।