युजवेंद्र चहल © IANS
युजवेंद्र चहल © IANS

भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच खेली जा रही वनडे सीरीज में टीम इंडिया के स्पिनर कंगारुओं के लिए अबूझ पहेली बने हुए हैं। वहीं दूसरी तरफ भारत के युजवेंद्र चहल तो ऑस्ट्रेलिया के बल्लेबाज ग्लेन मैक्सवेल के पीछे ही पड़ गए हैं। चहल ने मौजूदा सीरीज के हर मैच में मैक्सवेल को आउट किया है और उन्हें अपना सबसे पसंदीदा शिकार बना लिया है। सीरीज में खेले गए अब तक हर मैच में मैक्सवेल चहल की ही गेंदों पर आउट हुए हैं। इस दौरान चहल ने मक्सवेल को 2 बार स्टंप और 1 बार कैच आउट कराया है। ये भी पढ़ें: पीटर हैंड्सकॉम्ब को आउट करने के लिए मनीष पांडे ने लिया हैरतअंगेज कैच

पहले मैच में पांडे के हाथों कराया कैच: सीरीज के पहले मैच में चहल ने मैक्सवेल को स्टंप आउट कराया। पांचवें नंबर पर खेलने आए मैक्सवेल ने आते ही बड़े शॉट खेलने शुरू कर दिए थे। मैक्सवेल हर गेंद पर छक्का जड़ रहे थे। मैक्सवेल अकेले दम पर भारत से मैच छीनने की कोशिश में लगे थे। तभी कोहली ने चहल को गेंदबाजी में लगाया और चहल ने मैक्सवेल को अपने जाल में फंसा लिया। चहल की फ्लाइटेड गेंद को मैक्सवेल हवा में खेल बैठे और बाउंड्री पर पांडे ने कैच लेने में कोई गलती नहीं की।

दूसरे मैच में धोनी के हाथों कराया स्टंप: पहले मैच की ही तरह दूसरे मैच में भी चहल ने मैक्सवेल का शिकार किया। इस मुकाबले में मैक्सवेल एक बार फिर से तेजी से रन बना रहे थे। मैक्सवेल 2 छक्के लगा चुके थे। ऐसे में कोहली ने फिर से गेंद को चहल के हाथों में सौंपी। इस बार चहल की गेंद को मैक्सवेल ने क्रीज से आगे निकलकर खेलने की कोशिश की। गेंद मैक्सवेल के बल्ले को छू भी नहीं सकी और धोनी के दस्तानों में चली गई। धोनी ने बिजली की रफ्तार से स्टंप कर मैक्सवेल की पारी का अंत कर दिया। ये भी पढ़ें: भारत के खिलाफ स्टीवन स्मिथ ने की बड़ी उपलब्धि अपने नाम, पूरे किए 2,000 रन

तीसरे मैच में फिर चहल ने धोनी के साथ मिलकर किया मैक्सवेल का शिकार: लगातार 2 माचों में 2 बार आउट करने के बाद तीसरे मैच में भी चहल ने मैक्सवेल को अपना शिकार बना डाला। इस बार चौथे नंबर पर खेलने उतरे मैक्सवेल थोड़ा रुककर खेलने की कोशिश कर रहे थे। लगातार गेंद खाली जा रही थीं और इस दबाव को हटाने के लिए मैक्सवेल ने फिर से क्रीज से आगे निकलकर खेलने का प्रयास किया। गेंद फिर से मैक्सवेल को परेशान करती हुई धोनी के पास चली गई और विकेटों के पीछे धोनी ने कोई गलती नहीं की।

इस तरह से चहल ने तीनों ही मैचों में मैक्सवेल को अपना शिकार बना उन्हें अपना बनी बना लिया। चहल के खिलाफ मैक्सवेल ने अब तक 36 गेंदों में 28 रन बनाए हैं। इस दौरान चहल ने उन्हें कुल 5 बार आउट किया है, जिसमें से लगातार 3 बार इसी सीरीज में किया है। आने वाले मैचों में भी मैक्सवेल के लिए चहल की गेंदों को खेलना आसान नहीं रहेगा।