रिषभ पंत (Rishabh Pant) द्वारा ऑस्‍ट्रेलिया दौरे पर (India vs Australia) बायो-सिक्‍योर बबल (Bio-Secure Bubble) के नियमों को तोड़ने के संबंध में लगातार आ रही ऑस्‍ट्रेलियाई मीडिया की खबरों पर बीसीसीआई (BCCI) भी हरकत में आ गया है. इस संबंध में बीसीसीआई की तरफ से बयान जारी किया गया है. बीसीसीआई का कहना है कि मीडिया रिपोर्ट्स में दी जा रही जानकारी गलत है. इसका सच्‍चाई से कोई लेना-देना नहीं है.

न्‍यूज एजेंसी पीटीआई से बताचीत के दौरान बीसीसीआई के एक अधिकारी ने कहा, ‘‘नहीं, जैविक रूप से सुरक्षित नियमों का कोई उल्लंघन नहीं किया गया है. टीम से जुड़ा प्रत्येक व्यक्ति नियमों से अच्छी तरह वाकिफ है.’’

इन सब चीजों की शुरुआत उस समय हुई जब नवलदीप सिंह नाम के एक प्रशंसक ने भारतीय क्रिकेटर रोहित शर्मा, रिषभ पंत, नवदीप सैनी और शुबमन गिल की एक रेस्टोरेंट में खाना खाते हुए तस्वीर और वीडियो ट्वीट किया.

रेस्टारेंट में खिलाड़ियों के समीप बैठने का दावा करने वाले प्रशंसक ने बाद में भ्रम पैदा करने के लिए माफी मांगी. प्रशंसक ने दावा किया था कि खिलाड़ियों के खाने के बिल का भुगतान करने के बाद पंत ने उन्हें गले लगाया था.

नियमों के अनुसार खिलाड़ियों को बाहर खाने की इजाजत है बशर्ते वे जरूरी एहतियात बरतें. ‘‘हम इसे ऑस्‍ट्रेलियाई मीडिया के एक समूह का दुर्भावनापूर्ण कार्य ही कह सकते हैं और इसकी शुरुआत उनकी शर्मनाक हार के बाद हुई.’’

भारत ने मेलबर्न में दूसरे टेस्ट में ऑस्‍ट्रेलिया को आठ विकेट से हराया जिससे एडीलेड में करारी हार के बाद भारत ने जोरदार वापसी की.

सिडनी मॉर्निंग हेराल्ड ने रेस्टोरेंट में जाने को जैविक रूप से सुरक्षित माहौल से जुड़े नियमों का उल्लंघन करार दिया था लेकिन उनकी खबर में बीसीसीआई, क्रिकेट ऑस्‍ट्रेलिया या भारतीय टीम प्रबंधन से जुड़े किसी व्यक्ति का कोई बयान नहीं था.