डेविड वॉर्नर  © Getty Images
डेविड वॉर्नर © Getty Images

बेंगलुरू वनडे में ऑस्ट्रेलिया ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 50 ओवरों में 5 विकेट पर 334 रनों का स्कोर खड़ा किया है और टीम इंडिया को 335 रनों का लक्ष्य मिला है। ऑस्ट्रेलिया की ओर से डेविड वॉर्नर ने सर्वाधिक 124, एरन फिंच ने 94, पीटर हैंड्सकॉम्ब ने 43 और ट्रेविस हेड ने 29 रन बनाए। भारत की ओर से उमेश यादव ने सर्वाधिक 4, और केदार जाधव ने 1 विकेट झटका।

एक समय ऑस्ट्रेलिया ने 35वें ओवर में 231 का स्कोर बना लिया था। डेविड वॉर्नर और एरन फिंच तूफानी अंदाज में बल्लेबाजी कर रहे थे। ऐसे में लगा रहा था कि स्कोर 350 के पार जाएगा लेकिन बाद के ओवरों में ऑस्ट्रेलिया ने लगातार विकेट गंवाए जिससे रन रेट धीमा हो गया और ऑस्ट्रेलिया उतना बड़ा स्कोर खड़ा नहीं कर सकी।

इससे पहले ऑस्ट्रेलिया ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया। इस मुकाबले में भारत की टीम में 3 बदलाव हुए। टीम इंडिया ने कुलदीप यादव, भुवनेश्वर कुमार और जसप्रीत बुमराह को आराम दिया और इनकी जगह पर अक्षर पटेल, उमेश यादव और मोहम्मद शमी को मौका दिया गया। ऑस्ट्रेलिया की टीम में 2 बदलाव किए गए। खराब फॉर्म में चल रहे ग्लेन मैक्सवेल को टीम से बाहर कर दिया गया है और एश्टन एगर चोटिल होने के कारण पहले ही स्वदेश लौट चुके थे। मैक्सवेल की जगह मैथ्यू वेड और एगर की जगह एडम जंपा को खिलाया गया।

ऑस्ट्रेलिया की पारी: टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने उतरी ऑस्ट्रेलिया को उनके दोनों सलामी बल्लेबाजों एरन फिंच और डेविड वॉर्नर ने तूफानी शुरुआत दी। जब ये दोनों बल्लेबाज खेल रहे थे तब भारतीय गेंदबाजों को कोई राह नजर नहीं आ रही थी। इसी बीच डेविड वॉर्नर ने अपना 14वां वनडे शतक बनाया। अब दूसरे छोर से एरन फिंच ने भी ताबड़तोड़ बल्लेबाजी करना शुरू की। इस तरह से ये दोनों बल्लेबाज स्कोर को 200 के पार ले गए। कोई विकेट नहीं गिरा था इस लिहाज से लग रहा था कि आज ऑस्ट्रेलिया 350 के ऊपर स्कोर जरूर बनाएगी लेकिन तभी पार्ट टाइम गेंदबाज केदार जाधव ने डेविड वॉर्नर को बाउंड्री लाइन पर अक्षर पटेल के हाथों झिलवा दिया।

वॉर्नर ने 119 गेंदों पर 124 रन बनाए। इस दौरान उन्होंने 12 चौके और 4 छक्के लगाए। इससे पहले कि ऑस्ट्रेलियाई पारी संभलती। लगातार दो ओवरों में उमेश यादव ने एरन फिंच और स्टीवन स्मिथ को आउट कर दिया। फिंच ने 96 गेंदों में 94 रन बनाए जिसमें 10 चौके और 3 छक्के शामिल थे। वहीं, स्टीवन स्मिथ ने 5 गेंदों में 3 रन बनाए। इसके बाद अगले 10 ओवरों तक भारतीय गेंदबाजों ने ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाजों के हाथ बांधकर रखे और कोई बड़ा स्ट्रोक नहीं खेलने दिया।

आखिरी ओवरों में हेड्स ने एक छक्का जरूर लगाया लेकिन वह बाउंड्री पर रहाणे के हाथों लपके गए। उन्होंने अपनी पारी में 1 चौका और 1 छक्का लगाया। हेड्स 38 गेंदों में 29 रन बनाकर आउट हुए। बाद में मोर्चा पीटर हैंड्सकॉम्ब ने संभाला लेकिन वह भी 3 चौके और 1 छक्का लगाकर आउट हो गए। स्टोइनिस ने आखिरी ओवर में कुल 15 रन बटोरे और ऑस्ट्रेलिया को बड़े स्कोर की ओर अग्रसर किया। स्टोइनिस 15 रन बनाकर नाबाद रहे।