धर्मशाला की पिच पर सीरीज का निर्णायक मैच खेला जाना है © Getty Images
धर्मशाला की पिच पर सीरीज का निर्णायक मैच खेला जाना है © Getty Images

ऑस्ट्रेलिया के पूर्व तेज गेंदबाज मिशेल जॉनसन का मानना है कि धर्मशाला की तेज गेंदबाजों के लिये अनुकूल परिस्थितियों में भारतीय टीम परेशान हो जाएगी जबकि स्टीवन स्मिथ और उनके खिलाड़ी अधिक आश्वस्त होकर खेलेंगे। जॉनसन ने फॉक्स स्पोर्ट्स से कहा, ‘‘धर्मशाला का मैदान शानदार है और मैंने इसे केवल एक बार देखा और तब इस पिच पर घास थी। इसलिए मेरा मानना है कि ऑस्ट्रेलियाई संभवत: आश्वस्त होंगे और भारतीय थोड़ा बैचेन। मुझे लगता है कि इस श्रृंखला में वे आत्मविश्वास से भरे हैं और स्कोर लाइन भी इसकी गवाह है।’’ऑस्ट्रेलिया के इस तेज गेंदबाज ने कहा कि शनिवार से शुरू होने वाले चौथे और अंतिम टेस्ट मैच में तेज गेंदबाजों के लिये अनुकूल परिस्थितियों में पुणे टेस्ट मैच के नायक स्टीव ओकीफी की जगह जैकसन बर्ड को अंतिम एकादश में रखा जा सकता है। उन्होंने कहा, ‘‘मुझे लगता है कि इस टेस्ट मैच में हमें एक स्पिनर के बिना खेलना होगा। ’’

जॉनसन ने कहा, ‘‘स्पिनरों ने इस पूरी श्रृंखला में बहुत अच्छी भूमिका निभायी। स्पिनरों पर यहां अच्छा प्रदर्शन करने का काफी दबाव था और मुझे लगता है कि उन्होंने टुकड़ों में अच्छा प्रदर्शन किया। बीच में कुछ बुरे दौर भी आये लेकिन यही खेल है। इनमें से किसी एक का चयन करना मुश्किल है क्योंकि श्रृंखला में दोनों ने अच्छा प्रदर्शन किया है लेकिन मुझे लगता है कि आप अनुभव को तवज्जो दोगे।’’ उन्होंने कहा, ‘‘मुझे लगता है कि नाथन लियोन को अधिक उछाल मिलेगी और वह गेंद को अच्छी तरह से टर्न करा रहा है। लेकिन आपको फिर भी बायें और दायें के संयोजन को देखना होता है।’’ [ये भी पढ़ें: रविचंद्रन अश्विन को बाउंसर फेंकना चाहता हूं: मिचेल स्टॉर्क]

उन्होंने कहा, ‘‘अगर यह आस्ट्रेलिया जैसा विकेट होता है तो मुझे लगता है कि नाथन लियोन को टीम में होना चाहिए और बर्ड को तीसरे तेज गेंदबाज के रूप में रखना चाहिए। ’’ जॉनसन ने खुशी जतायी कि पीटर हैंड्सकांब और शॉन मार्श तीसरा टेस्ट ड्रा कराने में सफल रहे जिसका ऑस्ट्रेलिया को मनोवैज्ञानिक लाभ मिलेगा। उन्होंने कहा, ‘‘मुझे लगता है कि रांची के परिणाम से ऑस्ट्रेलिया को काफी फायदा हुआ है। इससे भारत को पता चल गया है कि केवल स्टीव स्मिथ और डेविड वार्नर ही नहीं बल्कि टीम के अन्य खिलाड़ी भी प्रदर्शन कर सकते हैं।’’