India vs Australia, 4th Test: Sledging on field helps in keep Positive and busy; Says Rishabh Pant
paine-pant (AFP Image)

भारतीय क्रिकेट टीम के युवा विकेटकीपर रिषभ पंत  और टिम पेन के बीच मैदान में हुई छींटाकशी का टेलीविजन पर दर्शकों ने पूरा लुत्फ उठाया। पंत ने इसपर कहा कि इससे उन्हें लंबे समय तक मैदान में एकाग्रता बनाए रखने में मदद मिली।

पढ़ें: डार्सी शॉर्ट के अर्धशतक से जीता होबार्ट हरिकेंस

मौजूदा सीरीज की आधिकारिक प्रसारक फॉक्स क्रिकेट ने स्टंप माइक को चालू रखा जिससे पेन और पंत के बीच दिलचस्प छींटाकशी रिकॉर्ड हो गई। इसके बाद पंत की एक तस्वीर वायरल हुई जिसमें वह ऑस्ट्रेलियाई कप्तान पेन की पत्नी और बच्चों के साथ दिखे।

पंत ने कहा कि उन्हें स्टंप माइक चालू रखने से कोई शिकायत नहीं है।

पढ़ें: ’90 पर पहुंचकर नर्वस था क्योंकि विंडीज के खिलाफ 92 रन पर आउट हुआ था’

पंत ने कहा, ‘यह (छींटाकशी) अपने आप को सकारात्मक और व्यस्त रखने का एक तरीका है। जब आप लंबे समय तक मैदान में होते है तो हर किसी का शरीर थक जाता है ऐसे में आपको खुद को सकारात्मक और एकाग्र रखने की जरूरत होती है। मेरा यही तरीका है और यह मेरे लिए काम भी करता है। इसलिए मैं ऐसा करता हूं।’

उन्होंने कहा, ‘खिलाड़ी के तौर पर मैं इसके (स्टंप माईक चालू रखने) बारे में नहीं सोचता हूं। उस समय मुझे जो भी समझ आया मैंने बोल दिया। मेरा यही एक तरीका है।’

पेन ने मेलबर्न टेस्‍ट में पंत से कही थी ये बात

मेलबर्न टेस्ट के दौरान पेन ने बल्लेबाजी कर रहे पंत को कहा था, ‘एमएस वनडे टीम में लौट आया है। इस बच्चे को होबार्ट हरीकेंस भेज देना चाहिए। इससे होबार्ट जैसे खूबसूरत शहर में छुट्टियां बिताने का मौका भी मिलेगा। क्यो तुम बच्चे खिला सकते हो। मैं अपनी पत्नी को सिनेमा ले जाऊंगा और तब तक तुम मेरे बच्चे खिलाना।’

पंत ने कुछ इस तरह दिया था पेन को जवाब

जिसके अगले दिन पंत ने उन्हें माकूल जवाब दिया। पंत ने सिली प्वाइंट पर खड़े मयंक अग्रवाल से पेन की तरफ इशारा करते हुए कहा, ‘हमारे बीच आज नया मेहमान है। मयंक तुमने कभी अस्थायी कप्तान के बारे में सुना है।’

उस समय गेंदबाजी कर रहे रविंद्र जडेजा से उन्‍होंने कहा, ‘इसको (पेन को) आउट करने के लिए ज्यादा कुछ करने की जरूरत नहीं है। उसे बात करना पसंद है और वही कर सकता है। बस बकबक।’

(इनपुट-भाषा)