India vs Australia, 4th Test: We have to copy Cheteshwar Pujara and bat long time; Says Marnus Labuschagne
Marnus-Labuschagne (AFP Image)

ऑस्ट्रेलिया के तीसरे नंबर के बल्लेबाज मार्नस लाबुशेन ने कहा है कि चौथे टेस्ट के नतीजे में पहली पारी की भूमिका महत्वपूर्ण होगी।

पढ़ें: पुजारा का शानदार शतक, पहले दिन भारत 303/4

लाबुशेन का मानना है कि ऑस्‍ट्रेलियाई टीम को भारत के चेतेश्वर पुजारा का अनुकरण करते हुए लंबे समय तक बल्लेबाजी करनी होगी। पुजारा ने पहले दिन नाबाद 130 रन बनाए जिससे भारत ने 4 विकेट पर 303 रन का स्कोर खड़ा किया।

‘पुजारा से सीखना चाहूंगा’

लाबुशेन ने पहले दिन का खेल खत्म होने के बाद कहा, ‘वह स्तरीय खिलाड़ी हैं। क्रीज पर खेलते हुए उनके पास समय और धैर्य होता है। उन्‍होंने जिस तरह बल्लेबाजी की उसे निजी तौर पर मैं सीख लेना चाहूंगा। उन्‍होंने काफी लंबे समय तक बल्लेबाजी की और वह पूरी सीरीज के दौरान ऐसा करते रहे। हमें भी ऐसा ही करने की जरूरत है जिससे कि बड़ा स्कोर खड़ा कर सकें।’

पढ़ें: ‘खाने में कड़कनाथ चिकन शामिल करने पर विचार करे टीम इंडिया’

यह सीरीज में पुजारा का तीसरा शतक है। इससे पहले एडिलेड और मेलबर्न में क्रमश: पहले और तीसरे टेस्ट की पहली पारियों में भी उन्होंने शतक जड़ा था।

‘टीम इंडिया को 400 रन से कम के स्‍कोर पर आउट कर सकते हैं’

लाबुशेन ने कहा, ‘अगर कल गेंदबाज सही लाइन और लेंथ के साथ सही क्षेत्र में गेंदबाजी करते हैं तो मुझे भरोसा है कि हम जल्दी विकेट हासिल कर सकते हैं और उन्हें 400 रन से कम के स्कोर पर आउट कर सकते हैं।’

‘तीसरे दिन विकेट तेजी से टूटता है’

मार्नस लाबुशेन ने कहा, ‘विकेट तीन दिन तक अच्छा रहता है और इसके बाद तेजी से टूटता है। इसलिए हमारे लिए पहली पारी महत्वपूर्ण होगी।’

लेग स्पिन गेंदबाजी करने वाले लाबुशेन ने पुजारा को गेंदबाजी की तो इस बल्लेबाज ने उनके पहले ही ओवर में तीन चौके जड़ दिए। इस ऑलराउंडर ने पूरे दिन में सिर्फ चार ओवर गेंदबाजी की।

अपने तीसरे ही टेस्ट में तीसरे नंबर पर बल्लेबाजी करने की भूमिका के बारे में पूछने पर लाबुशेन ने कहा, ‘थोड़ा दबाव था। पहली गेंद ठीक थी और इसके बाद मैंने कुछ शॉर्ट गेंद फेंकी। अंतिम तीन ओवर गेंदबाजी के लिए जब मैं आया तो मैं सकारात्मक था।’

पढ़ेें: मार्टिंन गुप्टिल के शतक से न्‍यूजीलैंड की श्रीलंका पर बड़ी जीत

उन्होंने कहा, ‘मुझे पता है कि कल मेरी भूमिका एक छोर पर रन गति पर अंकुश रखना और तेज गेंदबाजों को आराम देना होगी जिससे कि यह सुनिश्चित हो सके कि वे प्रत्येक स्पैल के लिए तरोताजा होकर आएं।’

एडिलेड और मेलबर्न में भारत ने जीत दर्ज की जबकि ऑस्ट्रेलिया ने पर्थ में बाजी मारी जिससे मेहमान टीम सीरीज में 2-1 से आगे है।

लाबुशेन ने कहा, ‘मैंने अपने करियर में अधिकांश समय क्वीन्सलैंड के लिए तीसरे नंबर पर बल्लेबाजी की है और मैं इस स्थान पर सहज हूं। कल अच्छी चुनौती होगी और मैं इसे लेकर उत्सुक हूं।’

(इनपुट-भाषा)