विराट कोहली और रोहित शर्मा © PTI
विराट कोहली और रोहित शर्मा © PTI

भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच खेले गए 5वें वनडे मैच में टीम इंडिया ने ऑस्ट्रेलिया को 8 विकेट से करारी मात देकर सीरीज को 4-1 से अपने नाम कर लिया। इस जीत के साथ ही टीम इंडिया आईसीसी रैंकिंग में फिर से नंबर-1 बन गई है। वहीं ये पहली बार है जब टीम इंडिया ने 5 मैचों की वनडे सीरीज में ऑस्ट्रेलिया को 4-1 से हराया है। साथ ही भारत में ऑस्ट्रेलिया की ये लगातार दूसरी वनडे सीरीज हार है। इससे पहले साल 2013 में भी टीम इंडिया ने ऑस्ट्रेलिया को 3-2 से हराया था। ये भी पढ़ें: अजिंक्य रहाणे ने की सचिन तेंदुलकर, विराट कोहली के इस बड़े रिकॉर्ड की बराबरी

243 रनों के लक्ष्य को टीम इंडिया ने 42.5 ओवरों में सिर्फ 3 विकेट खोकर ही हासिल कर लिया। भारत की तरफ से रोहित शर्मा ने शानदार शतक लगाया और उन्होंने (125) रनों की पारी खेली। रोहित के अलावा अजिंक्य रहाणे ने भी शानदार बल्लेबाजी करते हुए (61) रन बनाए। वहीं तीसरे नंबर पर खेलने इतरे विराट कोहली (39) रनों की पारी खेली।

243 रनों के लक्ष्य का पीछा करने उतरी भारतीय टीम को रोहित शर्मा और अजिंक्य रहाणे ने ताबड़तोड़ शुरुआत दिलाई। दोनों बल्लेबाजों ने क्रीज पर उतरते ही आक्रामक अंदाज में बल्लेबाजी करनी शुरू कर दी और कंगारू गेंदबाजों को दबाव में ला दिया। इस दौरान रोहित ने 14 गेंदों तक तो कोई रन नहीं बनाया लेकिन इसके बाद उन्होंने 15वीं गेंद पर चौका लगाकर अपना खाता खोला। हालांकि इस दौरान रहाणे काफी तेज बल्लेबाजी कर रहे थे लेकिन खाता खुल जाने के बाद रोहित ने तो जैसे चौके-छक्कों की झड़ी ही लगी दी और देखते ही देखते अपना अर्धशतक पूरा कर लिया।

दूसरे छोर पर रहाणे ने भी सीरीज में लगातार चौथा अर्धशतक पूरा किया और ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ लगातार 4 बार 50 से ज्यादा का स्कोर बनाने वाले भारत की तरफ से कुल तीसरे खिलाड़ी बन गए। दोनों बल्लेबाजों ने टीम के स्कोर को 100 के पार पहुंचा दिया और सीरीज में लगातार तीसरी बार शतकीय साझेदारी की। दोनों बल्लेबाजों को आउट करना ऑस्ट्रेलियाई गेंदबाजों के लिए चुनौती नजर आ रही थी। हालांकि इसी बीच रहाणे (61) रन बनाकर कूल्टर-नाइल का शिकार हो गए और ऑस्ट्रेलिया को पहली सफलता मिली। रहाणे-रोहित के बीच पहले विकेट के लिए 124 रनों की साझेदारी हुई।

पहला विकेट गिर जाने के बाद कोहली ने रोहित का अच्छा साथ दिया और स्कोर को 150 रनों के पार पहुंचा दिया। इसी बीच रोहित के बल्ले से लगातार रन निकलते जा रहे थे और देखते ही देखते उन्होंने अपने वनडे करियर का 14वां शतक लगा दिया। इसके अलावा रोहित ने अपने 6,000 रन भी पूरे कर लिए। दोनों बल्लेबाजों ने तीसरे विकेट के लिए 99 रनों की साझेदारी की। जब लग रहा था कि दोनों भारत को जीत दिलाकर ही पवेलियन लौटेंगे उसी दौरान रोहित (125) रन बनाकर दूसरे विकेट के रूप में आउट हो गए। रोहित के आउट होने के बाद कोहली (39) भी उसी ओवर में एडम का जंपा का दूसरा शिकर हो गए। हालांकि दोनों बल्लेबाजों ने टीम की जीत पहले ही तय कर दी थी और आखिर में मनीष पांडे-केदार जाधव ने टीम इंडिया को जीत दिला दी।