India vs Australia: Back in Test squad for Glenn Maxwell is not east due to limited over cricket commitment
Glenn Maxwell (File Photo) © Getty Images

भारत और ऑस्‍ट्रेलिया के बीच चार मैचों की टेस्‍ट सीरीज का सभी क्रिकेट फैन्‍स को बेसब्री से इंतजार है। दोनों टीमों के बीच टेस्‍ट सीरीज की शुरुआत छह दिसंबर से होगी। तमाम कोशिशों के बावजूद ग्‍लेन मैक्‍सवेल के लिए टेस्‍ट टीम में वापसी कर पाना इतना आसान नजर नहीं आ रहा है।

ग्‍लेन मैक्‍सवेल को पाकिस्‍तान में खेली गई दो मैचों की टेस्‍ट सीरीज से पहले टीम से बाहर कर दिया गया था। वो अब भारत के खिलाफ टेस्‍ट सीरीज का हिस्‍सा बनने के लिए घरेलू टूर्नामेंट जेएलटी शेफील्‍ड शील्‍ड खेलना चाहते हैं। मौजूदा घरेलू सीजन में अच्‍छा प्रदर्शन कर वो चयनकर्ताओं के समक्ष अपनी दावेदारी पेश करना चाहते हैं, लेकिन सीमित ओवरों के क्रिकेट के शेड्यूल को देखते हुए उनके लिए ये आसान नजर नहीं आ रहा है।

मैक्‍सवेल को साउथ अफ्रीका के खिलाफ 17 नवंबर को होने वाले टी-20 मैच में टीम में जगह दी गई है। इसके बाद 21 नवंबर से भारत के खिलाफ तीन टी-20 मैचों की सीरीज का भी वो हिस्‍सा होंगे। जिसके कारण वो घरेलू क्रिकेट में तस्मानिया के खिलाफ मैच में नहीं उतर पाएंगे। मैक्‍सवेल अगर टी-20 टूर्नामेंट खेलने के बाद घरेलू सीरीज के लिए जाने की सोचते भी हैं तो भी तबतक टेस्‍ट टीम का ऐलान होने की पूरी संभावना है।

रेडियो स्‍टेशन एसइएन से बातचीत के दौरान ग्‍लेन मैक्‍सवेल ने कहा, “इस सीजन में मेरे लिए बेहद निराशाजनक शुरुआत हुई है। पहले आप फ्लाइट लेकर साउथ अफ्रीका के खिलाफ खेलने आओगे। आपको अभी चार टी-20 मुकाबले खेलने हैं। जिसके तुरंत बाद आप शेफील्‍ड टूर्नामेंट में बेहद कम समय में नए फॉर्मेट में खेलना है ताकि आप टेस्‍ट टीम के लिए अपनी दावेदारी पेश कर सको।”

मैक्‍सवेल ने कहा, “मैं घरेलू टूर्नामेंट में बेहद अलग चीजें ट्राय कर रहा था। जिसके बाद मैंने यहां से सीधे दुबई के लिए उड़ान भरी ताकि पाकिस्‍तान के खिलाफ टी-20 खेल सकूं। दुबई में मैंने फॉर्मेट बदलते हुए टी-20 में तेज गति से रन बनाए। फिर वापस अपने देश में वनडे और टी-20 खेला। जब भी लगता है कि आप किसी फॉर्मेट में जमने लगे हो तुरंत ही फॉर्मेट चेंज हो जाता है। नए फॉर्मेट  में आपको नए तरीके से अलग स्‍थान पर खेलना होता है। ये चीजें काफी निराश करने वाली हैं। लगातार नहीं जीत पाना भी हमारे लिए काफी निराशाजनक है।”

ग्‍लेन मैक्‍सवेल पिछले कुछ समय से खराब फॉर्म से भी गुजर रहे हैं। साल 2015 में विश्‍व कप में श्रीलंका के खिलाफ लगाए शतक के बाद से ही वो कोई शतक नहीं लगा पाए हैं। पिछले 22 महीने में उन्‍होंने महज एक अर्धशतक ही बनाया है। मैक्‍सवेल ने कहा, “मैं भारत के खिलाफ पहले टेस्‍ट में टीम में जगह बनाने की उम्‍मीद भी नहीं कर रहा हूं। मैं शेफील्‍ड शील्‍ड टूर्नामेंट में बोर्ड पर बड़ा स्‍कोर बनाकर आगे के मैचों के लिए अपनी दोवदारी पेश करना चाहता हूं।”