India vs Australia: Hardik Pandya, Ravindra Jadeja Shines as India beat Australia by 13 runs
Indian Cricket Team in Retro Jersey @twitter

भारतीय क्रिकेट टीम ने बुधवार को कैनबरा में खेले गए तीसरे और अंतिम वनडे में ऑस्ट्रेलिया को 13 रन से हराकर सीरीज का समापन जीत से किया। इस जीत के बादवजूद टीम इंडिया को 1-2 से सीरीज हारने पर मजबूर होना पड़ा। हार्दिक पांड्या की एक और शानदार पारी के बाद लय में लौटे जसप्रीत बुमराह की उम्दा गेंदबाजी की मदद से भारत ने ऑस्ट्रेलिया पर धमाकेदारी जीत दर्ज की।

पांड्या की 76 गेंद में 92 और रवींद्र जडेजा की 50 गेंद में 66 रन की नाबाद पारियों की मदद से भारत ने 5 विकेट पर 302 रन बनाए । कप्तान विराट कोहली ने भी 63 रन जोड़े। जवाब में ऑैस्ट्रेलियाई टीम एक समय जीत की तरफ बढ़ती नजर आ रही थी लेकिन 45वें ओवर में ग्लेन मैक्सवेल के आउट होने के बाद मैच उसकी जद से निकल गया। मेजबान टीम 49 . 3 ओवर में 289 रन ही बना सकी।

भारत के लिए पहला मैच खेल रहे टी नटराजन ने दो और शार्दुल ठाकुर ने तीन विकेट लिए लेकिन बुमराह ने मैक्सवेल का अहम विकेट लेकर भारत को मैच में लौटाया। उन्होंने 9 . 3 ओवर में 43 रन देकर दो विकेट लिए।

Dawid Malan ने T20 क्रिकेट में बनाया कीर्तिमान, प्राप्‍त की सबसे ज्‍यादा रेटिंग प्‍वाइंट

मैक्सवेल ने 38 गेंद में 59 रन बनाए और वह ऑस्ट्रेलिया को क्लीन स्वीप की ओर ले जाते दिख रहे थे लेकिन बुमराह ने शानदार यॉर्कर पर उन्हें पवेलियन भेजा।

इससे पहले भारतीय टीम में चार बदलाव किए गए थे और गेंदबाजी आक्रमण बदला हुआ था। आईपीएल की खोज नटराजन ने अपने पहले ही स्पैल में मार्नस लाबुशेन (सात) को आउट किया। वहीं मोहम्मद शमी की जगह आए ठाकुर ने पिछले दोनों मैचों में शतक जमाने वाले स्टीव स्मिथ (सात) को विकेट के पीछे लपकवाया।

मोजेज हेनरिक्स (22) और कप्तान आरोन फिंच (75) ने 51 रन की साझेदारी की जिसे ठाकुर ने तोड़ा और हेनरिक्स को आउट किया। बीच के ओवरों में कुलदीप यादव ने किफायती गेंदबाजी की । उन्होंने पहला वनडे खेल रहे कैमरन ग्रीन (21) का विकेट भी लिया। मैक्सवेल और एलेक्स कारे ने इसके बाद डटकर खेला ऐसा लग रहा था कि दोनों टीम को जीत तक ले जाएंगे लेकिन कैरी अहम मौके पर रन आउट हो गए ।

इससे पहले भारत की शुरूआत खराब रही लेकिन पांड्या और जडेजा 32वें ओवर में साथ आए और छठे विकेट के लिए 150 रन की अटूट साझेदारी करके खेल की तस्वीर बदल दी।

रोहित शर्मा की इंजरी के बारे में कोहली को बता सकते थे कोच शास्त्री: गंभीर

एक समय ऐसा लग रहा था कि भारतीय टीम 250 रन भी नहीं बना सकेगी लेकिन जडेजा और पांड्या ने भारत को 300 के पार पहुंचाया। दोनों ने क्रीज पर जमने में समय लिया लेकिन उसके बाद तेजी से रन बनाए। उन्होंने 46वें से 48वें ओवर के बीच 53 रन बनाए। आखिरी पांच ओवरों में 73 रन बने ।

पांड्या ने अपनी पारी में सात चौके और एक छक्का लगाया जबकि जडेजा ने पांच चौके और तीन छक्के जड़े। ऑस्ट्रेलिया के लिए एश्टन एगर ने 44 रन देकर दो विकेट लिए।