India vs Australia: I can keep wickets if I’m fit enough, says Peter Handscomb
Peter Handscomb (IANS)

भारत के खिलाफ विशाखापत्तनम में खेले गए पहले टी20 मैच में बतौर विकेटकीपर बल्लेबाज खेलने वाले पीटर हैंड्सकॉम्ब आगे वनडे मैचों में भी विकेटकीपिंग की जिम्मेदारी उठाने के लिए तैयार हैं। गौरतलब है कि हैंड्सकॉम्ब का ये डेब्यू टी20 मैच था और उन्हें स्थाई विकेटकीपर एलेक्स कैरी की जगह खिलाया गया।

ये भी पढ़ें: नए कोच डब्‍ल्‍यू वी रमन के टिप्‍स पर अमल करने से सुधरा मेरा प्रदर्शन

पीटर हैंड्सकॉम्ब ने कहा, “मैं कीपिंग कर सकता हूं, मुझे केवल इस बात को निश्चित करना होगा कि मैं इसके लिए पूरी तरह फिट और मजबूत हूं। अगर हम वनडे मैचों में पहले गेंदबाजी करते हैं, तो ये जरूरी है कि उसके बाद भी मैं जाकर चार या पांच नंबर पर बल्लेबाजी कर सकूं और ये सुनिश्चित करूं कि मैं विकेट के बीच अच्छे से दौड़ लगा पाउं। भारत में ज्यादा गर्मी और स्पिन वाला विकेट होने से, ये काम मुश्किल हो सकता है लेकिन ये ऐसा काम है जिसे करने के लिए मैं तैयार हूं।”

वाइजैग टी20 के दौरान हैंड्सकॉम्ब का प्रदर्शन अच्छा रहा था। हालांकि उन्होंने कोई कैच या स्टंपिंग नहीं की पर कोई अतिरिक्त रन भी नहीं जाने दिया। लेकिन हैड्सकॉम्ब महेंद्र सिंह धोनी को रन आउट करने से चूक गए, पर उन्हें इसका मलाल नहीं है। उन्होंने कहा, “ये ठीक था। मैंने रन रोके, कुछ बेहद जरूरी रन और यही अहम है।”

ये भी पढ़ें: कोच चंद्रकांत पंडित बोले, रमाकांत आचरेकर सर का मुझपर है आर्शीवाद

हैड्सकॉम्ब ऑस्ट्रेलिया के फील्डिंग कोच ब्रैड हेडिन के साथ मिलकर अपनी विकेटकीपिंग पर काम कर रहे हैं। अपने रूटीन पर बात करते हुए उन्होंने कहा, “हैड्स (कोच हेडिन) बहुत अच्छा है। हमने कुछ साल पहले एक साथ काम किया था, जिसने मुझे कीपिंग के सही रास्ते पर ला दिया। हमारा एक छोटा सा रूटीन है जो हम हमेशा ट्रेनिंग से पहले करते हैं जो कि मुझे कीपिंग के लिए तैयार होने में मदद करता है।”