डेविड वार्नर © Getty Images
डेविड वार्नर © Getty Images

ऑस्ट्रेलिया के सलामी बल्लेबाज डेविड वार्नर ने कहा कि भारतीय ऑफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन के खिलाफ शॉट खेलने में काफी जोखिम होने के बावजूद वह उनके खिलाफ शाट खेलना बंद नहीं करेंगे। मौजूदा टेस्ट श्रृंखला की चार पारियों में अश्विन पहली ही तीन बार वार्नर को आउट कर चुके हैं। वार्नर ने ऑस्ट्रेलियाई मीडिया से कहा, ‘‘वह मुझे नौ बार आउट कर चुका है इसलिए उसे इसके लिए श्रेय जाता है।’’ अश्विन ने दूसरे टेस्ट की पहली पारी में वार्नर को बोल्ड करने के बाद दूसरी पारी में उन्हें पगबाधा आउट किया। उन्होंने कहा, ‘‘पिछले टेस्ट में मैं स्विच हिट लगाने की कोशिश कर रहा था, मैंने रिवर्स स्वीप खेलने का प्रयास किया। मेरे लिए एकमात्र चिंता असमान उछाल था, यह हमेशा चुनौतीपूर्ण चीज होती है।’’ अश्विन की लए को तोड़ने के लिए स्विच हिट का इस्तेमाल किया जा सकता है लेकिन वार्नर का मानना है कि भारतीय विकेटों पर इस शॉट में काफी जोखिम है। ये भी पढ़ें: विराट कोहली आक्रामक हैं, तो यह भारतीय क्रिकेट के लिए अच्छा है: कपिल देव

उन्होंने कहा, ‘‘अगर आप चूक जाओगे और स्विच हिट लगा रहे होंगे तो आपको पगबाधा आउट दिया जा सकता है लेकिन अगर आप रिवर्स स्वीप कर रहे होंगे तो ऐसा नहीं होगा। आपको सतर्क रहना होगा।’’ वार्नर ने कहा, ‘‘मुझे पता है कि अगर मैं शॉट खेलूंगा (अश्विन के खिलाफ) तो उसे कुछ बदलाव करना होगा।’’ उन्होंने कहा, ‘‘वह शानदार गेंदबाज है, वह अपनी सरजमीं पर काफी विकेट हासिल कर चुका है और मुझे इस पर प्रतिक्रिया देनी होगी।’’ वार्नर ने दावा किया कि उन्होंने छींटाकशी का जवाब देना बंद कर दिया है। दक्षिण अफ्रीका पर गेंद से छेड़छाड़ का आरोप लगाने के लिए एक बार आईसीसी द्वारा जुर्माने का सामना करने वाले ऑस्ट्रेलिया के इस सलामी बल्लेबाज ने कहा, ‘‘मुझे इस पर (छींटाकशी) प्रतिक्रिया देने की जरूरत नहीं है, अब ऐसा करने की जरूरत नहीं है।’’ आपको बता दें कि ऑस्ट्रेलिया के इस बल्लेबाज को अश्विन ने अब तक कुल 23 पारियों में 9 बार अपना शिकार बनाया है, जो कि किसी भी गेंदबाज से ज्यादा है। इस सीरीज में अश्विन ने लगातार परेशान किया है और कई मौकों पर अपना शिकार बनाया है।