India vs Australia: If India don’t win the Test series, then we need to change from the top, says Sunil Gavaskar
Virat Kohli, Rohit Sharma © AFP

पूर्व भारतीय कप्तान सुनील गावस्कर का कहना है कि अगर विराट कोहली की कप्तानी में भारतीय टीम ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ मौजूदा टेस्ट सीरीज हार जाती है तो हमें ‘ऊपर से बदलाव’ करने पड़ेंगे। गावस्कर ने ये भी कहा कि ये विराट कोहली की कप्तानी की परीक्षा है।

आजतक से बातचीत में गावस्कर ने कहा, “जैसे जैसे हम सीरीज में आगे बढ़ेंगे हमे कप्तान विराट कोहली और बल्लेबाज विराट कोहली के बीच का अंतर पता चल जाएगा। ये ऑस्ट्रेलिया सीरीज अच्छा मौका है। अगर भारत ये टेस्ट सीरीज नहीं जीतता है, तो हमे ये सोचना पड़ेगा कि क्या बदलाव किया जाना चाहिए, ऊपर से बदलाव करना होगा। अगर हम जीत जाते हैं तो बात ही अलग हो जाएगी।”

‘बॉक्सिंग डे टेस्ट में मयंक अग्रवाल, मुरली विजय को सलामी बल्लेबाजी करनी चाहिए’

पूर्व खिलाड़ी का कहना है कि चैंपियंस ट्रॉफी, इंग्लैंड और दक्षिण अफ्रीका में मिली हार की जिम्मेदारी किसी को तो लेनी होगी। उन्होंने कहा, “क्योंकि चैंपियंस ट्रॉफी में पहले गेंदबाजी करने का फैसला, दक्षिण अफ्रीका में खिलाड़ियों का चयन, इंग्लैंड में किया गया चयन और ऑस्ट्रेलिया के लिए किया गया चयन। किसी को इन सभी फैसलों की जिम्मेदारी लेनी होगी। किसी को इसके लिए जिम्मेदार ठहराना होगा।”

टीम इंडिया 3-1 से टेस्ट सीरीज जीतेगी: वीवीएस लक्ष्मण

गावस्कर का इशारा एडिलेड टेस्ट में रविंद्र जडेजा का ना खिलाने और इंग्लैंड के खिलाफ लॉर्ड्स टेस्ट में कुलदीप यादव खिलाने जैसे गलत फैसलों की ओर था। उन्होंने कहा, “उन्हें अपने टीम कॉम्बिनेशन को देखना होगा, अपनी कमियों को ढूंढकर उन्हें ठीक करना होगा। अगर वो ऐसा कर पाते हैं तो वो अगले दो टेस्ट मैच जीत सकते हैं, लेकिन अगर वो ऐसा नहीं कर पाते हैं, वो भी ऐसी ऑस्ट्रेलिया टीम के खिलाफ जिसमें स्मिथ और वॉर्नर नहीं है। तो फिर चयनकर्ताओं को सोचना होगा कि हमें इस- कप्तान, कोच और सपोर्ट स्टाफ से क्या फायदा मिल रहा है।”

गावस्कर ने आगे कहा, “हम ये देख रहे हैं, दक्षिण अफ्रीका दौरे के बाद से चयनकर्ताओं से जो गलतियां हो रही हैं। उससे टीम को नुकसान हुआ है क्योंकि हमने वो मैच हारे हैं जो सही चयन से जीते जा सकते थे।”