India vs Australia: Langer praises Virat Kohli, says his balance is unbelievable
virat kohli west indies

ऑस्ट्रेलियाई कोच जस्टिन लैंगर ने विराट कोहली की शतकीय पारी की जमकर तारीफ की। कोहली की तुलना सचिन तेंदुलकर से करते हुए कहा कि भारतीय कप्तान का क्रिकेट के सभी प्रारूपों में अपने शॉट खेलते समय संतुलन अविश्वसनीय है।

कोहली के 39वें वनडे शतक की मदद से भारत ने दूसरा वनडे जीता। लैंगर ने इसके बाद कोहली की तारीफ करते हुए कहा कि भारतीय कप्तान का अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में अभी वही प्रभाव है जो अपने जमाने में तेंदुलकर का हुआ करता था।

पढ़ें:- सबसे बड़े मैच फिनिशर महेंद्र सिंह धोनी, स्ट्राइक रेट में नंबर वन

लैंगर ने दूसरे वनडे में ऑस्ट्रेलिया की छह विकेट से हार के बाद कहा, ‘‘मैं इन दोनों को अपनी टीम में रखना चाहूंगा। सचिन अविश्वसनीय क्रिकेटर था। मैं उन्हें खेलते हुए देखता था और ऐसा लगता था कि जैसे वह ध्यानमग्न हैं। वह बेहद शांतचित होकर खेलते थे और इसलिए उनके रिकॉर्ड अद्वितीय हैं।’’

उन्होंने कहा, ‘‘विराट भी यही काम कर रहा है। वह बल्लेबाजी में शांति से काम लेता है और बेहद प्रतिस्पर्धी है और तकनीकी तौर पर उसका संतुलन अविश्वसनीय है। खेल के सभी प्रारूपों में हर तरह का शाट खेलना उसके लिये आसान काम है।’’

कोहली ने जड़ा 64वां इंटरनेशनल शतक, निकले संगाकारा से आगे

लैंगर ने कहा कि आस्ट्रेलिया के युवा क्रिकेटरों के लिये यह फायदे की बात है कि उनका सामना कोहली और महेंद्र सिंह धोनी जैसे विश्वस्तरीय क्रिकेटरों से हो रहा है। उन्होंने कहा, ‘‘वह (कोहली) कड़ा प्रतिस्पर्धी है और उसकी एकाग्रता अतुलनीय है। सचिन, विराट और धोनी ये सभी महानतम खिलाड़ी हैं। हमारे खिलाड़ी वनडे के सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ियों के खिलाफ खेल रहे हैं और इस अनुभव से वे बेहतर खिलाड़ी बनेंगे।’’

लैंगर ने शॉन मार्श की भी तारीफ की जिन्होंने ऑस्ट्रेलिया की तरफ से शतक लगाया। उन्होंने कहा, ‘‘शॉन मार्श की पारी बेहतरीन थी। हमने कुछ अर्धशतकीय साझेदारियां निभाई थी लेकिन हम बड़े शतक की बात कर रहे थे और शॉन ने आज ऐसा किया।’’