India vs Australia: MS Dhoni, Shikhar Dhawan, Ambati Rayudu Sweat it Out in Nets
DHONI-KOHLI © Getty Images (file image)

ऑस्ट्रेलिया में पहली बार टेस्ट सीरीज जीतने के बाद लाल गेंद से खेलने वाले खिलाड़ी इसकी मिठास का लुत्फ उठा रहे हैं जबकि सफेद गेंद के विशेषज्ञों ने बुधवार को एससीजी की पिच पर अभ्यास किया, जिसमें अनुभवी विकेटकीपर एमएस धोनी भी शामिल हैं।

वनडे विश्व कप 2019 को देखते हुए अब ध्यान सफेद गेंद के क्रिकेट पर लग गया है और मंगलवार को सीमित आवेरों के विशेषज्ञ भी यहां पहुंच गए हैं।

इंग्लैंड में होने वाले विश्व कप से पहले काफी वनडे खेले जाने हैं जिसमें ऑस्ट्रेलिया में तीन वनडे और न्यूजीलैंड में पांच वनडे के अलावा एक तीन मैचों की टी20 अंतरराष्ट्रीय सीरीज भी शामिल है।

ऑस्ट्रेलियाई टीम फिर पांच वनडे और दो टी20 अंतरराष्ट्रीय के लिए 23 मार्च से शुरू होने वाले 2019 इंडियन प्रीमियर लीग सत्र से पहले भारत के दौरे पर जाएगी।

धोनी सहित कई खिलाड़ी टीम इंडिया से जुड़े

धोनी सहित सफेद गेंद के विशेषज्ञ शिखर धवन, रोहित शर्मा, अम्बाती रायडू, केदार जाधव, युजवेंद्र चहल, दिनेश कार्तिक और खलील अहमद यहां भारतीय टीम के साथ जुड़ गए हैं।

बुधवार को यहां पहुंचे खिलाड़ियों में से चार सदस्यों ने एससीजी में ट्रेनिंग की। धोनी, धवन, जाधव और रायडू ने शनिवार को सिडनी में होने वाले पहले वनडे से पहले मैदान पर जमकर पसीना बहाया।

हालांकि गुरुवार को तैयारियां जोर पकड़ेंगी जब पूरी टीम नवंबर में वेस्टइंडीज के खिलाफ घरेलू सीरीज के बाद एक साथ पहले ट्रेनिंग सत्र में हिस्सा लेगी।

इस चौकड़ी ने पहले थ्रोडाउन किया क्योंकि इस वैकल्पिक सत्र में टीम का कोई विशेषज्ञ गेंदबाज मौजूद नहीं था।

धवन और रायडू ने दाएं और बाएं थ्रोडाउन से ट्रेनिंग की जबकि धोनी ने इंडोर नेट में सहायक कोच संजय बांगड़ के साथ अभ्यास किया। जाधव ने दो नेट पर अभ्यास किया।

पूर्व ऑस्‍ट्रेलियाई पेसर डर्क नैंस ने बुमराह की तारीफों के पूल बांधे

वहीं ऑस्ट्रेलिया और नीदरलैंड के पूर्व तेज गेंदबाज डर्क नैंस ने जसप्रीत बुमराह के सीमित ओवर से टेस्ट क्रिकेट में गेंदबाजी करने की तारीफ की और वो भी लय और फिटनेस में बिना किसी परेशानी के।

नैंस ने कहा, ‘मुझे लगता है कि जब आपके पास कौशल हो तो सफेद गेंद से टेस्ट क्रिकेट में खेलना आसान होता है और उसमें निश्चित रूप से यह कौशल है। लेकिन चुनौती ऐसा निरंतर करने की है – एक ही समय में एक ही स्पॉट पर हिट करना। वह ऐसा शानदार तरीके से करता है।’

विश्व कप से पहले गेंदबाजी के बोझ से निपटने के लिए सभी तीन टी20 अंतरराष्ट्रीय और चार टेस्ट में खेलने के बाद बुमराह को ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड के खिलाफ वनडे और टी20 अंतरराष्ट्रीय सीरीज के लिए आराम दिया गया है।

(इनपुट-भाषा)