india vs australia nathan lyon is 100 percent sure gabba will host 4th test against india
नाथन लियोन @ICCTwitter

भारत और ऑस्ट्रेलिया (India vs Australia) के बीच खेली जारी टेस्ट सीरीज में चौथे टेस्ट को लेकर खबरें आ रही हैं कि टीम इंडिया (Team India in Australia) ब्रिसबेन में होने वाले चौथे टेस्ट मैच को लेकर खुश नहीं है. सिडनी टेस्ट के बाद भारतीय खिलाड़ियों को ब्रिसबेन पहुंचकर आइसोलेशन में समय बिताना होगा, जिससे भारतीय खिलाड़ी खुश नहीं हैं. टीम इंडिया ऑस्ट्रेलिया पहुंचकर पहले ही 14 दिन का आइसोलेशन बिता चुकी है. लेकिन ऑस्ट्रेलिया स्पिनर नाथन लियोन (Nathan Lyon) को पूरा भरोसा ही कि सीरीज का चौथा और अंतिम टेस्ट तय शेड्यूल के मुताबिक गाबा (ब्रिसबेन) के मैदान पर ही होगा.

कुछ मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, टीम इंडिया आइसोलेशन के कड़े नियमों के कारण ब्रिसबेन का दौरा करना नहीं चाहती है. सीरीज का चौथा और आखिरी टेस्ट 15 जनवरी से खेला जाएगा, इसस पहले तीसरा टेस्ट 7 जनवरी से सिडनी में होगा. लियोन ने वर्चुअल प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा, ‘हमारी ब्रिस्बेन जाने और पूर्व कार्यक्रम के अनुसार खेलने की योजना है. हमने ऐसा कुछ नहीं सुना है इसलिए हम आज सिडनी का दौरा करेंगे और उम्मीद कि वहां अच्छा परिणाम हासिल करके सीधे ब्रिस्बेन में खेलने के लिए जाएंगे.’

कंगारू टीम का ब्रिसबेन में भारत के खिलाफ रिकॉर्ड अच्छा है. भारत यहां मेजबान टीम से कभी कोई टेस्ट मैच नहीं जीत पाया है. इस स्पिन गेंदबाज ने कहा, ‘सभी जानते हैं कि हमें गाबा में खेलना कितना पसंद है और हम जानते हैं कि वहां का रिकॉर्ड हमारे अनुकूल है. इसलिए गाबा में खेलने की पूरी योजना है. यह पक्का है.’

टेस्ट क्रिकेट में 400 विकेट लेने से सिर्फ 6 विकेट दूर खड़े इस गेंदबाज ने कहा, ‘ईमानदारी से कहूं तो हम प्लान B या गाबा में नहीं खेलने के बारे में नहीं सोच रहे हैं. मुझे 100% विश्वास है कि हम वहां खेलने के लिए जाएंगे और हम गाबा में खेलने की तैयारी कर रहे हैं. हालांकि फिलहाल हम इस बारे में नहीं सोच रहे हैं और हमारा फोकस अभी सिडनी टेस्ट पर है.’

खिलाड़ियों के आइसोलेशन में रहने के सवाल पर इस 33 वर्षीय गेंदबाज ने कहा, ‘जहां तक आइसोलेशन में रहने की बात है तो मैं जानता हूं कि दोनों टीमों के कुछ ऐसे खिलाड़ी हैं, जो बीते करीब 6 महीनों से जैव सुरक्षित माहौल (Bio Secure Bubble) में रह रहे हैं. लेकिन मेरी नजर में अपना सबसे प्यारा खेल खेलने लिए यह बहुत छोटा सा बलिदान है.’