India vs Australia: Rahul Dravid, Cheteshwar Pujara’s cricketing career have many similarity
Cheteswar Pujara and Rahul Dravid @ Designed Photo

भारतीय टीम ने ऑस्‍ट्रेलिया के खिलाफ एडिलेड में जीत दर्ज की तो इसका श्रेय पूरी तरह से चेतेश्‍वर पुजारा को जाता है। इससे पहले भारतीय टीम ने एडिलेड की धरती पर साल 2003 में जीत दर्ज की थी। उस मैच के हीरों द वॉल के नाम से मशहूर राहुल द्रविड़ थे। इन दोनों मैचों में और राहुल-पुजारा के क्रिकेटिंग करियर में कई इत्‍तेफाक ऐसे हैं जिसे उनके फैन्‍स के लिए जानना काफी जरूरी है।

पढ़ें: पृथ्वी शॉ ने शुरू किया दौड़ना, दूसरे टेस्ट में हो सकते हैं शामिल

एडिलेड में राहुल- पुजारा का शानदार रिकॉर्ड

साल 2003 में एडिलेड की धरती पर खेले गए मैच में राहुल द्रविड़ ने पहली पारी में 233 और दूसरी पारी में 72 रन बनाए थे। इस मैच में टीम इंडिया को जीत मिली थी। वहीं, चेतेश्‍वर पुजारा के लिए भी एडिलेड का मैदान काफी खास रहा। उन्‍होंने पहली पारी में 123 और दूसरी पारी में 71 रन बनाए। ये मैच भी भारत जीतने में कामयब रहा। एडिलेड में खेले गए इन दोनों ही मैचों में राहुल और पुजारा प्‍लेयर ऑफ द मैच रहे। बता दें कि भारत ने ऑस्‍ट्रेलिया की धरती पर कुल छह टेस्‍ट मैच ही जीते हैं। भारत की जीत से जुड़े इन दोनों मैचों में पुजारा और राहुल द्रविड़ ने दोनों पारियों में रन बनाए। दोनों ही खिलाड़ियों की भूमिका टीम इंडिया में नंबर तीन पर है।

पढ़ें:  एडिलेड टेस्ट की पहली पारी में बल्लेबाजों ने मूर्खतापूर्ण क्रिकेट खेली: शास्त्री

एक साथ पूरे किए 3, 4 और 5 हजार रन

दूसरी पारी के दौरान चेतेश्‍वर पुजारा ने अपने टेस्‍ट करियर में पांच हजार रन पूरे किए। इस निजी कीर्तिमान तक पहुंचने के लिए उन्‍होंने 108 पारियां खेली। राहुल द्रविड़ ने भी अपने टेस्‍ट करियर के दौरान 108 पारियों में ही पांच हजार रन पूरे किए थे। पुजारा और राहुल द्रविड़ के बीच ये इत्‍तेफाक ही है कि दोनों ने 84 पारियों में ही चार हजार रन और 67 पारियों में तीन हजार रन भी पूरे किए थे।