india vs australia ricky ponting criticized australia batting in melbourne test
रिकी पॉन्टिंग @CATwitter

बॉक्सिंड डे (Boxing Day Test Match) के तीसरे दिन भारत ने मेजबान ऑस्ट्रेलिया पर (India vs Australia) दबाव और बढ़ा दिया है. भारत की पहली पारी 326 रन पर समाप्त हुई. इस स्कोर की बदौलत उसने मेजबान टीम पर पहली पारी के आधार पर 131 रनों की शानदार बढ़त हासिल की.

ऑस्ट्रेलिया की दूसरी पारी भी अभी तक कुछ खास नहीं रही है और उसने 133 रन जोड़ने तक ऊपरी क्रम के अपने 6 बल्लेबाजों के विकेट गंवा दिए हैं. ऑस्ट्रेलिया के पूर्व कप्तान रिकी पॉन्टिंग (Ricky Ponting) इससे खफा दिखे हैं. पॉन्टिंग ने कहा कि मेलबर्न की पिच में कोई खामी नहीं है लेकिन कंगारू बल्लेबाजों ने बहुत ही खराब बल्लेबाजी की है.

ऑस्ट्रेलिया के 4 विकेट ही बाकी हैं और मैच में अभी दो दिन का खेल बचा है. अगर टीम मंगलवार को उसके ये बाकी के विकेट जल्दी निपटा लेती है तो वह मैच के चौथे दिन ही जीत कर सीरीज में 1-1 की बराबरी हासिल करना चाहेगी.

पॉन्टिंग ने ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाजों की आलोचना करते हुए कहा, ‘आप पिच को दोष नहीं दे सकते. पिच आज बिल्कुल सही है. गेंद थोड़ी स्पिन हो रही थी, लेकिन आप पहले से ऐसी उम्मीद करते हैं. टेस्ट मैच के पहले दिन तेज गेंदबाजों को मदद मिलती है, लेकिन यह सिर्फ खराब, अब तक बहुत खराब बल्लेबाजी का नमूना है.’ ऑस्ट्रेलिया के यह पूर्व कप्तान चैनल 7 से इस मैच में अब तक के खेल पर चर्चा कर रहे थे.

उन्होंने कहा, ‘यह एक कारण है, मुझे लगता है वे खराब शॉट खेलकर आउट हुए. वह नियमित तौर पर स्कोर बोर्ड को चलने में विफल रहे और इससे दबाव बन गया. जब दबाव बनता है तो खराब शॉट लगता है.’

उन्होंने कहा, ‘मैंने इसके बारे में पहली पारी में और खासकर रविचंद्रन अश्विन (Ravichandran Ashwin) के खेलने के तरीके के बारे में बात की थी. वे उनके खिलाफ रक्षात्मक होकर खेल रहे थे. उन्होंने अच्छी गेंदबाजी की लेकिन कभी-कभी सर्वश्रेष्ठ गेंदबाजों के खिलाफ आपको एक बल्लेबाज के रूप में अधिक जोखिम उठाना पड़ता है. यह सच है कि वे खराब गेंदबाजी नहीं करेंगे.’

पॉन्टिंग ने इस मौके पर भारतीय गेंदबाजी आक्रमण की तारीफ भी की. उन्होंने कहा, ‘अगर कम कौशल वाले गेंदबाज होते हैं तो आपको पता होता है कि रन बनाने के एक या दो मौके मिलेंगे लेकिन बुमराह (Jasprit Bumrah), अश्विन, जडेजा (Ravindra Jadeja) और यहां तक की सिराज (Mohammed Siraj) ने भी कोई गलती नहीं की. उन्होंने ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाजों को गलती करने पर मजबूर कर दिया.’

इनपुट: भाषा