India vs Australia: Ricky Ponting wants Australia to fight with same playing XI at Perth
Ricky Ponting (File Photo) © Getty Images

एडिलेड टेस्‍ट में हार के बाद ऑस्‍ट्रेलिया को अब मेहमान भारत के खिलाफ 14 दिसंबर से पर्थ के मैदान पर उतरना है। ऑस्‍ट्रेलिया को पहली बार अपने घर में  टेस्‍ट सीरीज के पहले ही मैच में हार का सामना करना पड़ा है। ऐसे में हार की बौखलाहट ऑस्‍ट्रेलियाई खेमे में साफ नजर आ रही है। उम्‍मीद की जा रही है कि पर्थ के मुकाबले में ऑस्‍ट्रेलिया की टीम में बदलाव किए जाएंगे, लेकिन पूर्व कप्‍तान रिकी पोंटिंग का मानना है कि पर्थ टेस्‍ट में प्‍लेइंग इलवेन में कोई बदलाव नहीं किया जाना चाहिए।

पर्थ में भी फिंच  ही करें सलामी बल्‍लेबाजी

क्रिकेट डॉट कॉम डॉट एयू से बातचीत के दौरान रिकी पोंटिंग ने कहा, “अगर हम अपने बल्‍लेबाजी क्रम में बदलाव करते हैं तो ये एडिलेड की हार का ओवर रिएक्‍शन होगा। हमें एरोन फिंच को सलामी बल्‍लेबाज के तौर पर उतारते हुए ही इसी बल्‍लेबाजी क्रम के साथ खेलना चाहिए।”

पढ़े – पहले से पता था कि ऑस्ट्रेलियाई पिचों से क्या उम्मीद करनी है: चेतेश्वर पुजारा

एरोन फिंच ने एडिलेड टेस्‍ट की पहली पारी में शून्‍य और दूसरी पारी में 11 रन बनाए। फिंच के बल्‍लेबाजी क्रम में बदलाव के सवाल पर पोंटिंग ने कहा, “चयनकर्ता और टीम मैनेजमेंट में जिसने भी उन्‍हें सलामी बल्‍लेबाज के तौर पर खेलने के लिए चुना है उन्‍हें लगता है कि फिंच टीम में सलामी बल्‍लेबाज के रोल में फिट बैठता है। मुझे लगता है कि हार के बाद उन्‍हें हटाना महज ओवर रिएक्‍शन है।”

रिकी पोंटिंग का मानना है कि जब भी आप बल्‍लेबाजी क्रम में बदलाव करने लगते हो तो उससे टीम में अनिश्चितताएं बढ़ने लगती है। ऑस्‍ट्रेलिया के पूर्व स्पिनर शेन वार्न का मानना है कि पर्थ टेस्‍ट में पीटर हैंड्सकॉम्ब के स्‍थान पर ऑलराउंडर मार्कस स्‍टोइनिस को जगह दी जाए। अगर उन्‍हें मौका मिला तो ये उनका टेस्‍ट डेब्‍यू होगा, लेकिन रिकी पोंटिंग इस वक्‍त टीम में बदलाव के पूरी तरह से खिलाफ हैं।

पढ़े – एडिलेड में रिषभ पंत ने की पैट कमिंस की स्लेजिंग, वायरल हुआ वीडियो

‘पर्थ की पिच ऑस्‍ट्रेलिया को करेगी मदद’

पोंटिंग ने कहा, “टीम मैनेजमेंट ने कहा था कि ये उनका सबसे मजबूत लाइनअप है। महज एक मैच के बाद ही उनका मत इस बाबत नहीं बदलना चाहिए। पर्थ की नई ‘ड्रॉप इन पिच’ पर ऑस्‍ट्रेलिया के पास एडवांटेज होगा।” ड्रॉप इन पिच वो विकेट होती है जिसे किसी दूसरे स्थान की मिट्टी को लाकर तैयार किया जाता है।

पोंटिंग का मानना है कि पर्थ की पिच निश्चित तौर पर भारत के मुकाबले ऑस्‍ट्रेलियाई टीम को सूट करेगी। ऑस्‍ट्रेलिया को वहां तेजी से बाउंस बैक करना होगा। हमारी टीम ने खराब खेल दिखाया इसका ये मतलब नहीं है कि भारतीय खिलाड़ी ने अपना सर्वश्रेष्‍ठ प्रदर्शन दिया है।