India vs Australia: Sunil Gavaskar believes Umesh Yadav is not convincing at white-ball cricket
Umesh Yadav (File Photo) @ IANS

भारत के पूर्व दिग्‍गज बल्‍लेबाज सुनील गावस्‍कर का मानना है कि बार-बार मौके मिलने के बाजवूद भी उमेश यादव खुद को सीमित ओवरों के क्रिकेट में साबित नहीं कर पाए हैं।

ऑस्‍ट्रेलिया के खिलाफ सीरीज के पहले टी20 मुकाबले में टीम इंडिया को तीन विकेट से हार का सामना करना पड़ा था। इसके लिए काफी हद तक उमेश यादव को ही जिम्‍मेदार माना गया। आखिरी ओवर में एरोन फिंच की कप्‍तानी वाली ऑस्‍ट्रेलियाई टीम को जीत के लिए 14 रन की दरकार थी। ऑस्‍ट्रेलिया के 7 विकेट गिर चुके थे। जीत आसान नजर आ रही थी, लेकिन ऐसा नहीं हो सका।

पढ़ें:- ‘द.अफ्रीका की तरह पाकिस्तान को अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट से अलग कर देना चाहिए’

गावस्‍कर का मानना है कि उमेश को सीरीज के दूसरे टी20 मुकाबले में मौका नहीं दिया जाना चाहिए। “लंबे समय तक क्रिकेट खेलने के बावजूद भी वो सफेद गेंद के क्रिकेट में असरदार साबित नहीं हो रहे हैं। ऐसे में भारत को उनका विकल्‍प तलाशने की जरूरत है।”

गावस्‍कर का मानना है कि विराट कोहली एंड कंपनी ने ऑस्‍ट्रेलिया को हल्‍के में लिया। उन्‍होंने कहा, “क्रिकेट के सबसे छोटे फॉर्मेट में हमें हमेंशा याद रखना चाहिए कि कोई भी टीम कमजोर नहीं होती। भारत तीन स्‍पेशलिस्‍ट बल्‍लेबाजों के साथ-साथ रिषभ पंत, महेंद्र सिंह धोनी, दिनेश कार्तिक और क्रुणाल पांड्या के भरोसे विशाखापत्‍तनम टी20 में उतरा।”

पढ़ें:- ICC की तिमाही बैठक, BCCI के साथ इस मुद्दे पर गतिरोध की संभावना

गावस्‍कर ने कहा, ‘भारत के लिए अच्‍छी बात यह रही कि केएल राहुल ने पहले टी20 में अच्‍छा प्रदर्शन किया। साथ ही मयंक मार्कंडेय ने भी अच्‍छा खेल दिखाया। विशाखापत्‍तनम में भारत की बल्‍लेबाजी काफी निराशाजनक रही। अगर दूसरे टी20 में भी ऐसा ही हुआ तो भारत लगातार दूसरी टी20 सीरीज हारेगा। इससे पहले न्‍यूजीलैंड में बल्‍लेबाजों के खराब प्रदर्शन के कारण भारत को टी20 सीरीज में हार का सामना करना पड़ा था। भारत धवन को वापस बुलाने के साथ-साथ राहुल को नंबर चार पर मौका दे सकता है।’