ऑस्ट्रेलिया दौरे पर भारतीय खिलाड़ियों को 14 दिन के अनिवार्य क्वारेंटीन में छूट दिए जाने को लेकर काफी चर्चा हो चुकी है। लेकिन अब भारतीय टीम को क्वारेंटीन में रहते हुए ही अभ्यास करने की अनुमति मिल गई है। एएनआई में छपी खबर के मुताबिक विराट कोहली की अगुवाई में 12 नवंबर को ऑस्ट्रेलिया पहुंचने के बाद टीम इंडिया को कोरोना टेस्ट निगेटिव आने के बाद तुरंत अभ्यास करने की इजाजत मिल जाएगी।

टीम से जुड़े सूत्र ने कहा, “टीम 12 नवंबर की सुबह ऑस्ट्रेलिया पहुंचेगी, वो कोरोना टेस्ट करवाएंगे और जैसे ही रिपोर्ट निगेटिव आएगी, वो ट्रेनिंग कर सकेंगे। इसलिए आप उम्मीद कर सकते हैं सभी लड़के 13 नवंबर से अभ्यास शुरू कर देंगे।”

बायो सिक्योर सुरक्षा इंतजामों के बीच भारतीय टीम कुछ इंट्रा-स्क्वाड मैच में खेल सकेगी, ताकि खिलाड़ियों को ऑस्ट्रेलिया की विकेट को समझने और पिच के हिसाब से खुद को ढालने में मदद मिले।

कप्तान कोहली शुक्रवार को सनराइजर्स हैदराबाद के खिलाफ मैच में रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के हारने के बाद दुबई में भारतीय टीम के बायो सिक्योर बबल में पहुंच गए थे, जहां चेतेश्वर पुजारा, हनुमा विहारी और मयंक अग्रवाल पहले से मौजूद थे।

फिलहाल भारतीय बल्लेबाज एडिलेड में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ होने वाले डे-नाइट टेस्ट की तैयारी के लिए पिंक बॉल से अभ्यास कर रहे हैं। जिसके लिए भारतीय टीम के थ्रो-डाउन स्पेशलिस्ट रघु को भी दुबई लाया गया है।

ऑस्ट्रेलिया के घातक तेज गेंदबाजों ते खिलाफ खेलने का अभ्यास करने के लिए टीम इंडिया नेट गेंदबाजों- कमलेश नागरकोटि, कार्तिक त्यागी, इशान पॉरेल और टी नटराजन को भी दौरे पर ले जा रही है।