india vs australia tim paine apologies for his bad behavior against india in sydney test
टिम पेन @ICCTwitter

सिडनी टेस्ट (IND vs AUS Sydney Test) मैच के अंतिम दिन जब भारतीय बल्लेबाजों ने ऑस्ट्रेलिया (India vs Australia) की जीत के इरादों पर पानी फेर दिया तो उसके कप्तान टिम पेन (Tim Paine) मैदान पर झल्लाने लगे. विकेट के पीछे तैनात रहने वाले इस विकेटकीपर कप्तान ने रविचंद्रन अश्विन (Ravichandran Ashwin) के साथ छींटाकशी शुरू कर दी. अब उन्होंन अपने इस बर्ताव के लिए माफी मांगी है. पेन ने कहा कि उनकी कप्तानी अच्छी नहीं थी और अश्विन से छींटाकशी करके वे ‘बेवकूफ जैसे’ नजर आए.

पेन का मकसद पिच पर सेट हो चुके अश्विन की एकाग्रता भंग करना था. हालांकि वह इसमें कामयाब नहीं हो पाए. सिडनी टेस्ट में टीम इंडिया मैच की चौथी पारी में 407 रन के लक्ष्य का पीछा करने उतरी थी. उसने यह मैच हनुमा विहारी (Hanuma Vihari) और रविचंद्रन अश्विन की साझेदारी के बूते ड्रॉ करा लिया. ऑस्ट्रेलियाई कप्तान ने कहा कि मैच के दौरान कई बार उनका ध्यान भटका, वह गुस्सा थे और उत्तेजित भी हुए.

पेन को ऑनलाइन प्रेस कॉन्फ्रेंस के लिए नहीं आना था लेकिन वह इसके लिए पहुंचे और कहा, ‘मैंने कल (सोमवार) मैच के बाद तुरंत उससे (अश्विन से) बात की, मैंने उनसे कहा, देखो अंत में ऐसा लगा जैसे मैं बेवकूफ हूं। क्या मैंने ऐसा नहीं किया? आप मुंह खोलते हो और फिर कैच टपका देते हो.’

ऑस्ट्रेलियाई कप्तान ने कहा कि उन्होंने मीडिया से बात करने का फैसला किया क्योंकि उन्हें कल की कुछ बातें साफ करनी थी. उन्होंने कहा, ‘मैं इस टीम की अगुआई करने के अपने तरीके पर गर्व करता हूं. इसलिए कल जैसे चीजें घटीं उसके लिए माफी मांगना चाहता हूं.’ मैच के आखिरी दिन टिम पेन ने 3 कैच छोड़े जिसमें, अश्विन से बहस के बाद टपकाया गया विहारी का कैच भी शामिल था.

इस विकेटकीपर बल्लेबाज ने स्वीकार किया कि मैच का दबाव उन पर हावी हो गया और इससे उनका मूड प्रभावित हुआ. पेन ने कहा, ‘मेरी कप्तानी अच्छी नहीं थी, मैंने मुकाबले के दबाव को हावी होने दिया. यह मुझ पर हावी हो गया और इससे मेरा मूड प्रभावित हुआ, जिसका असर मेरे प्रदर्शन पर भी हुआ.’

इस 36 वर्षीय कप्तान ने कहा, ‘कल मैं अपनी उम्मीदों और हमारी टीम के स्तर पर खरा नहीं उतरा. मेरा यह बर्ताव उस तरीके की छवि नहीं थी, जिस तरह मैं ऑस्ट्रेलियाई टीम की अगुआई करना चाहता हूं.

अंपायर के फैसले का विरोध करने के लिए पेन पर रविवार को मैच फीस का 15 प्रतिशत जुर्माना भी लगाया गया था. पेन ने अंपायरों के साथ बर्ताव के लिए भी माफी मांगी. उन्होंने कहा, ‘मैं जिस तरह इससे निपटा उसे लेकर बेहद निराश हूं. मैंने दूसरे दिन की शुरुआत में जिस तरह अंपायरों से बात की वह भी अस्वीकार्य है.’

अश्विन के साथ बहस के दौरान गाली-गलौज करने वाले पेन ने कहा, ‘मैं एक बार फिर अपने प्रशंसकों और लोगों से माफी मांगना चाहता हूं, जिन्होंने कल मेरी कही कुछ बातें सुनी, यह सही नहीं थी विशेषकर टीम के कप्तान के मुंह से.’

इनपुट : भाषा