India vs Australia: Travis Head should replace Mitchell Marsh for the first test, says Geoff Lawson
Shaun Marsh (File Photo) © Getty Images

ऑस्‍ट्रेलिया के पूर्व सलामी बललेबाज ज्‍यॉफ लॉसन का मानना है कि भारत के खिलाफ पहले टेस्‍ट मैच में ऑलराउंडर मिशेल मार्श को जगह नहीं दी जानी चाहिए। उन्‍हें काफी मौके दिए जा चुके हैं।

पाकिस्‍तान के खिलाफ यूएई में दो मैचों की टेस्‍ट सीरीज के दौरान मिशेल मार्श का प्रदर्शन काफी खराब रहा था। उन्‍होंने बल्‍लेबाजी के दौरान चार पारियों में महज 30 रन ही बनाए थे। गेंदबाजी के दौरान भी उन्‍होंने महज दो विकेट निकाले थे।

खराब प्रदर्शन के कारण मिशेल मार्श को साउथ अफ्रीका के खिलाफ वनडे सीरीज और भारत के खिलाफ टी-20 सीरीज से भी बाहर का रास्‍ता दिखा दिया गया था। हालांकि घरेलू टूर्नामेंट शेफील्‍ड शील्‍ड के दौरान मिशेल मार्श ने 151 रन की पारी खेलकर भारत के खिलाफ मजबूती से अपनी दावेदारी पेश की। मिशेल मार्श इस वक्‍त टेस्‍ट टीम में एकमात्र ऑलराउंडर हैं। ऐसे में भारत के खिलाफ पहले टेस्‍ट में उनका खेलना लगभग तय माना जा रहा है।

ज्‍यॉफ लॉसन ने साल 1980 से 1989 तक ऑस्‍ट्रेलिया के लिए 46 टेस्‍ट और 79 वनडे मुकाबले खेले हैं। बिल एंड बोज से बातचीत के दौरान उन्‍होंने कहा, “अगर टीम में मिशेल मार्श की जगह विशेषज्ञ बल्‍लेबाज खेलेगा तो इससे हमें ज्‍यादा फायदा होगा। पहले मैच के लिए जिस 14 सदस्‍यीय टीम का ऐलान किया गया है उसमें पीटर सिडल और क्रिस ट्रिमेन एक्‍सट्रा तेज गेंदबाज हैं। अन्‍य खिलाड़ी जिसे मैं टीम से बाहर करना चाहूंगा वो हैं मिशेल मार्श। उन्‍हें काफी मौके मिल चुके हैं। करीब 30 टेस्‍ट मैच खेलने के बाद उनका औसत 26 का है। वो बेहद कम ही गेंदबाजी करता है। वो ऑलराउंडर की भूमिका में खरा नहीं उतरता है। मैं उसे मौका नहीं देना चाहूंगा।”

ट्रेविस हेड ने यूएई दौरे पर टेस्‍ट डेब्‍यू किया था। सीरीज में उनके बल्‍ले से एक अर्धशतक सहित कुल 122 रन निकले। ज्‍यॉफ लॉसन ने कहा, “मैं चाहूंगा कि ट्रेविस हेड को इस सीरीज में मौका मिले। वो एक युवा खिलाड़ी है। एक स्‍पेशलिस्‍ट बल्‍लेबाज होने के नाते मैं उसे पहले टेस्‍ट मैच में खेलते हुए देखना चाहूंगा।”

ज्‍यॉफ लॉसन का मानना है कि सलामी बल्‍लेबाज के तौर पर एरोन फिंच के साथ मार्कस हैरिस को खिलाना चाहिए। अगर हैरिस को मौका दिया गया तो वो अपना टेस्‍ट डेब्‍यू करेंगे। शेफील्‍ड शील्‍ड के दौरान मार्कस हैरिस ने शानदार प्रदर्शन किया है।