India vs Australia: Washington Sundar’s father is frustrated at his son not completing his century
वाशिंगटन सुंदर (Twitter)

ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ गाबा टेस्ट मैच में शानदार अर्धशतकीय पारी खेलने वाले वॉशिंगटन सुंदर के पिता एम सुदंर इस बात से दुखी हैं कि उनका बेटा शतक पूरा नहीं कर सका। सुंदर ने ब्रिसबेन में खेले जा रहे चौथे टेस्ट मैच में 144 गेंदों पर 62 रनों की शानदार पारी खेली, जिसकी मदद से टीम इंडिया ने पहली पारी में 336 रन का स्कोर खड़ा किया लेकिन सुंदर के पिता को लगता है कि उनके बेटे को शतक पूरा करना चाहिए था क्योंकि उसमें बल्लेबाजी की काबिलियत है।

आईएएनएस से बात करते हुए उन्होंने कहा, “मैं निराश हूं कि वो शतक पूरा नहीं कर सका। जब सिराज आए थे तब उसे चौके और छक्के लगाने चाहिए थे। वो ये कर सकता था। उसे पुल करना चाहिए था और बड़े शॉट्स लगाने चाहिए थे। और कुछ नहीं तो उसे ऑस्ट्रेलिया के स्कोर की बराबरी करने की कोशिश करनी चाहिए थी।”

Video: गाबा टेस्ट में रोहित शर्मा ने की स्टीव स्मिथ की नकल, फैंस ने लिए मजे

एम. सुंदर ने कहा कि रोजाना उनकी बेटे से बात होती और एक दिन पहले भी हुई थी। उन्होंने कहा, “मैंने उससे कहा था कि मौका मिले तो बड़ा स्कोर खेलना। उसने कहा था कि वो जरूर खेलेगा।”

सलामी बल्लेबाज हैं सुंदर

एम, सुंदर ने कहा कि उनके बेटे को सातवें क्रम पर खेलने का मौका मिला, ये अलग बात है पर वो स्वाभाविक तौर पर ओपनिंग बल्लेबाज है। पिता ने कहा, “वो स्वाभाविक सलामी ओपनिंग बल्लेबाज है। उसने नई गेंद से ढेरों रन बनाए हैं।”

सुंदर से पहले भारत के लिए टेस्ट मैचों में डेब्यू के साथ अर्धशतक लगाने के साथ-साथ तीन या उससे अधिक विकेट लेने का कारनामा अब तक सिर्फ दो खिलाड़ी कर सके थे। इनमें से एक दत्तू फडकर भी थे, जिन्होंने ऑस्ट्रेलिया का पहली बार दौरा करने वाली भारतीय टीम के लिए ये कारनामा किया था।