केदार जाधव और विराट कोहली © AFP
केदार जाधव और विराट कोहली © AFP

पुणे में खेले गए पहले वनडे में भारतीय टीम ने इंग्लैंड को झिलाते हुए 350 रनों के विशाल स्कोर का भी पीछा कर लिया। लेकिन भारतीय पारी की शुरुआत बेहद खराब रही और सभी बड़े खिलाड़ी महेंद्र सिंह धोनी, युवराज सिंह, शिखर धवन और के एल राहुल पवेलियन लौट चुके थे और यहां से भारत की जीत की उम्मीदें बिल्कुल ना के बराबर ही बचीं थीं। लेकिन लोकल ब्वॉय केदार जाधव ने सभी को चौंकाते हुए इंग्लैंड के मुंह से जीत छीन ली।

केदार जाधव ने क्रीज पर आते ही ताबड़तोड़ बल्लेबाजी शुरू कर दी और भारत की तरफ से छठा सबसे तेज शतक ठोक दिया। जाधव ने 76 गेंदों में 120 रनों की पारी खेली जिसकी बदौलत भारत ने मैच जीतने में कामयाबी पाई। जाधव की बल्लेबाजी को पूर्व कप्तान सौरव गांगुली ने विराट कोहली से भी बेहतर करार दिया। गांगुली ने कहा, ‘जिस तरह की शानदार बल्लेबाजी जाधव ने की है मुझे लगता है उनकी ये पारी कोहली से भी उम्दा और शानदार रही है। कोहली ने भी पहले वनडे में शतक लगाकर अपने करियर का 27वां शतक लगाया। हम कोहली के बारे में हमेशा बात करते हैं लेकिन जाधव ने कोहली से ज्यादा अच्छा खेला। जाधव जब बल्लेबाजी करने आए तो भारत का स्कोर उस समय 4 विकेट के नुकसान पर 63 रन था, साफ है भारतीय टीम काफी दबाव में थी और ये हालात 31/1 से ज्यादा मुश्किल थे, लेकिन ऐसे हालात में आकर शुरू से तेज गति से रन बनाना और खुद पर कोई दबाव नहीं आने देने दर्शाता है कि वह शानदार बल्लेबाज हैं और उनकी यह पारी कोहली की पारी के मुकाबले ज्यादा अच्छी थी।’ ये भी पढ़ें: लक्ष्य का सफल पीछा करते हुए सबसे ज्यादा शतक लगाने वाले बल्लेबाज बने विराट कोहली

जाधव ने पांचवें विकेट के लिए कोहली के साथ मिलकर 200 रनों की साझेदारी की जो की अंत में भारत के लिए बहुत महत्वपूर्ण साबित हुई। इसके साथ ही जाधव भारत की तरफ से छठे सबसे तेज शतक लगाने वाले बल्लेबाज बन गए। जाधव ने 65 गेंदों में अपना शतक पूरा किया। जाधव की बेहतरीन पारी के लिए उन्हें मैन ऑफ द मैच के खिताब से भी नवाजा गया। साथ ही अब भारत ने सीरीज में 1-0 की बढ़त बना ली है और अब टीम के इरादे दूसरे मैच को जीतकर सीरीज पर कब्जा जमाने का होगा।