इयोन मॉर्गन  © Getty Images (File Photo)
इयोन मॉर्गन © Getty Images (File Photo)

कानपुर। इंग्लैंड के कप्तान इयोन मोर्गन ने कहा कि पहले टी20 मैच में टीम ने इस पूरे दौरे में अब तक का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन किया जिससे वह भारत को सात विकेट से हराने में सफल रही। मोर्गन ने कहा, “मुझे लगता है कि यह काफी हद तक संपूर्ण प्रदर्शन था। पहले हमने टॉस जीता और क्षेत्ररक्षण किया। गेंदबाजों पर थोड़ा दबाव था लेकिन उन्होंने अच्छी गेंदबाजी की। टाइमल मिल्स और क्रिस जोर्डन ने दिखाया कि उन्हें टीम में क्यों लिया गया है। उन्होंने बेजोड़ प्रदर्शन किया। मोईन अली ने बीच के ओवरों में बेहतरीन गेंदबाजी की।” उन्होंने कहा कि आठवें ओवर में विराट कोहली का विकेट हासिल करना मैच का टर्निंग प्वाइंट रहा। मोर्गन ने कहा, “विराट को आउट करना अहम रहा। गेंदबाजों ने शानदार भूमिका निभायी। उन्हें रनों के लिए जूझना पड़ा जो हमारे लिए अच्छा संकेत है।”

मॉर्गन ने मैच में 51 रनों की तूफानी पारी खेली और इसके साथ ही उन्होंने टी20I में अपने 1,500 रन पूरे कर लिए। वह यह कारनामा करने वाले इंग्लैंड के पहले बल्लेबाज बन गए हैं। इस मैच के पहले उन्हें ये कारनामा करने के लिए 40 रनों की दरकार थी। मॉर्गन की इंग्लैंड टीम ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी करने का निर्णय लिया और जब इंग्लैंड चेज करने के लिए उतरी तो इंग्लैंड ने 43 रनों पर अपने 2 विकेट गंवा दिए। इसी बीच मॉर्गन क्रीज पर आए और आते ही धूमधड़ाका मचा दिया। [भारत बनाम इंग्लैंड, पहला टी20I, कानपुर: फुल क्रिकेट स्कोर जानने के लिए क्लिक करें ]

मॉर्गन ने इंग्लैंड के लिए टी20 डेब्यू साल 2009 में नीदरलैंड्स के खिलाफ किया था। तबसे वह अपनी टीम के मुख्य सदस्य हैं। मॉर्गन को तूफानी बल्लेबाजी के लिए जाना जाता है और उन्होंने इंग्लैंड को कई मैच जितवाए हैं। मॉर्गन अंतरराष्ट्रीय टी20 में 1,500 रन बनाने वाले 12वें बल्लेबाज बने। उल्लेखनीय है कि मॉर्गन पहले आयरलैंड की ओर से खेला करते थे लेकिन बाद में उन्होंने इंग्लैंड की ओर से खेलना शुरू किया। मॉर्गन के बाद टी20I में इंग्लैंड की ओर से सर्वाधिक रन बनाने का रिकॉर्ड एलेक्स हेल्स के नाम है। हेल्स के नाम अब तक कुल 1,257 रन हैं। यह मॉर्गन का 65वां टी20I मैच था और वह अब तक कुल 8 अर्धशतक जड़ चुके हैं। उनका टी20I में सर्वोच्च स्कोर 85 है जो उन्होंने साउथ अफ्रीका के खिलाफ अपने दूसरे मैच में बनाया था।