विराट कोहली  © Getty Images
विराट कोहली © Getty Images

कानपुर। भारतीय कप्तान विराट कोहली ने इंग्लैंड की टीम के साथ आए पत्रकारों के सवाल पर तीखा जवाब देते हुए कहा कि उन्हें बाएं हाथ के तेज गेंदबाज टाइमल मिल्स की विरोधी टीम में मौजूदगी से कोई परेशानी नहीं है क्योंकि वह अपने करियर में 90 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से गेंदबाजी करने वाले कई गेंदबाजों का सामना कर चुके हैं। टी20 विशेषज्ञ मिल्स के बारे में विचार पूछने पर कोहली ने रूखा सा जवाब दिया। कोहली ने सपाट कहा, “मैंने उसे ज्यादा गेंदबाजी करते हुए नहीं देखा है लेकिन मैं अपने करियर में 90 किमी प्रति घंटे की रफ्तार के गेंदबाजों को खेल चुका हूं।” उन्होंने कहा, “वे मिल्स को टी20 विशेषज्ञ के तौर पर पर लाए हैं, उसके पास भले ही इस प्रारूप के लिए ज्यादा कौशल हो। मैं उसे थोड़ा देखने के बाद ही शायद दूसरे मैच के बाद ही उसके बारे में टिप्पणी कर सकता हूं। लेकिन 90 किमी प्रति घंटे की रफ्तार बिलकुल भी समस्या नहीं है। मुझे लगता है कि मैं अब तक काफी 90 किमी प्रति घंटे की रफ्तार वाले गेंदबाजों को खेल चुका हूं।” कोहली ने हालांकि इंग्लैंड के खिलाड़ियों की मौजूदा खेप की काफी प्रशंसा की।

उन्होंने कहा, “यह श्रृंखला कई खिलाड़ियों के लिए फिर से फॉर्म में लौटने या टीम में अपना स्थान पक्का करने के लिए शानदार मौका है। इसलिए हर किसी को इस टीम में शामिल किया गया है क्योंकि हमें उन पर विश्वास है, हमें उन पर भरोसा है। वे भविष्य में भी योगदान दे सकते हैं। आखिर में यह एक खिलाड़ी पर निर्भर करता है कि वह कितना तैयार है और वह मौके का फायदा उठाने के लिए कितना बेताब है।” कोहली ने इसके साथ ही स्पष्ट किया कि टीम संयोजन में बहुत अधिक बदलाव की संभावना नहीं है और साथ ही जोड़ा कि वह भी पारी का आगाज कर सकते हैं जैसे कि वह आईपीएल में आरसीबी की तरफ से भी कर चुके हैं। उन्होंने कहा, “अभी यह(संयोजन तैयार करना) आसान है। समस्या तब आती है जबकि निरंतरता का अभाव हो। हम कुछ मैचों के बाद ही सर्वश्रेष्ठ संयोजन का पता कर पाएंगे। पहले मैच में आपके पास एक तय लाइन- अप होगी लेकिन अगर बल्लेबाजी क्रम में निरंतरता मसला बनता है तो फिर यह मुश्किल होती है कि आप उस खिलाड़ी को टीम में बनाए रखना चाहते हैं या नहीं।” [ये भी पढ़ें: भारत बनाम इंग्लैंड पहले टी20 मैच में होंगे ये रोमांचक मुकाबले]

कोहली ने खुद के पारी के आगाज करने के बारे में कहा, “सभी तरह की संभावनाएं हैं। आईपीएल में आपके पास ज्यादा भारतीय बल्लेबाज नहीं होते हैं क्योंकि वे कई फ्रेंचाइजी टीमों से जुड़े रहते हैं। जहां तक भारतीय बल्लेबाजों का सवाल है तो यहां आपके पास काफी विकल्प होते है। अगर जरूरत पड़ी तो मैं पारी का आगाज कर सकता हूं। यह टीम के संतुलन पर निर्भर करता है। मैंने केवल एक या दो टी20 अंतरराष्ट्रीय में पारी की शुरूआत की है लेकिन मुझे आईपीएल में ओपनिंग का अनुभव है। जरूरत पड़ने पर मैं ऐसा कर भी सकता हूं और नहीं भी।”