live cricket score, live score, live score cricket, india vs england live, india vs england live score, ind vs england live cricket score, india vs england 1st test match live, india vs england 1st test live, cricket live score, cricket score, cricket, live cricket streaming, live cricket video, live cricket, cricket live rajkot
जो रूट और मोइन अली ने पहले दिन भारतीय गेंदबाजों की जमकर खबर ली © Getty Images

भारत और इंग्लैंड के बीच खेले जा रहे पहले टेस्ट मैच में इंग्लैंड टीम के कप्तान एलेस्टर कुक ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी का फैसला किया। पहले ओवर की तीसरी ही गेंद पर कुक को जीवनदान मिला और अजिंक्य रहाणे ने कुक का कैच टपका दिया। इसके बाद भारतीय फील्डर यहीं नहीं रुके और मैच शुरू होने के आधे घंटे के भीतर ही तीन कैच छोड़ दिए। इस दौरान कुक के दो कैच और अपना पहला मैच खेल हशीम हमीद का एक कैच छोड़ा। लेकिन जीवनदान का दोनों बल्लेबाज कुछ ज्यादा फायदा नहीं उठा सके और भारत ने इंग्लैंड को शुरुआती झटके दिए। शुरुआती झटकों से इंग्लैंड बैकफुट पर आ गया।

जब लग रहा थी कि भारत इंग्लैंड के विकेट जल्दी गिरा देगा तभी कुछ ऐसे हुआ कि भारत की मैच में बनती जा रही पकड़ कमजोर पड़ने लगी लंच तक भारत ने इंग्लैंड टीम के तीन खिलाड़ीयों को पवेलियन भेज दिया था लेकिन लंच के बाद मोइन अली और जो रूट ने पारी को संभाला और टीम के स्कोर को आगे बढ़ाना जारी रखा। इसी बीच जो रूट ने अपने करियर का 11वां शतक पूरा किया और मैच में इंग्लैंड की पकड़ को मजबूत कर दिया। जो रूट ने भारतीय गेंदबाजों के खिलाफ हल्ला बोलते हुए अपने करियर का 11वां शतक लगा डाला। एक समय संकट में दिख रही इंग्लैंड टीम को रूट ने संकट से उबारा और मजबूती की तरफ ला खड़ा किया।  भारत बनाम इंग्लैंड, पहला टेस्ट: लाइव ब्लॉग देखने के लिए क्लिक करें

जो रूट को आउट करने में भारतीय गेंदबाज नाकाम साबित हुए और जो रूट ने धैर्यपूर्वक खेलते हुए 9 चौकों की मदद से अपना शतक पूरा किया। भारत के खिलाफ रूट का ये तीसरा शतक है। इस दौरान लंच से चायकाल तक इंग्लैंड ने एक भी विकेट नहीं गंवाया। चाय के बाद उमेश यादव की गेंद को सीधा खेलने के प्रयास में जो रूट उमेश यादव को ही कैच थमा बैठे और 124 रन बनाकर पवेलियन लौट गए। रूट ने अपनी पारी में 11 चौके और 1 छक्का लगाया। जो रूट आउट होने वाले इंग्लैंड के चौथे बल्लेबाज थे। हालांकि इसके बाद मोइन अली और बेन स्टोक्स ने कोई और विकेट नहीं गिरने दिया और इंग्लैंड ने पहले दिन का खेल खत्म होने तक 311 रन बना लिए थे। दिन का खेल खत्म होने तक मोइन अली 99 पर नाबाद और बेन स्टोक्स 19 रनों पर नाबाद थे।

भारतीय गेंदबाजों की बात करें तो आर अश्विन ने दो, रविंद्र जडेजा और उमेश यादव को एक-एक विकेट मिला। वहीं मोहम्मद शमी और अमित मिश्रा को कोई विकेट नहीं मिला। शुरुआत में दोनों तेज गेंदबाजों की गेंदों पर फील्डरों ने कैच टपकाए थे। लेकिन इंग्लैंड के बल्लेबाजों ने मैदान पर टिककर खेला और भारतीय स्पिनरों को ठीक से पढ़ा। भारतीय स्पिनर हमेशा के मुकाबले उतने प्रभावशाली नहीं रहे और इंग्लैंड की टीम को मुसीबत में डालने में नाकाम रहे। इंग्लैंड के बल्लेबाज जो रूट ने फिर से साबित कर दिया कि वह मौजूदा पीढ़ि के सबसे बेहतरीन बल्लेबाज क्यों हैं। रूट के साथ मिलकर मोइन अली ने भी भारतीय गेंदबाजों का डटकर सामना किया और धीरे-धीरे अपनी पारी को शतक के दहलीज पर ले आए। मोइन अली 99 रनों पर नाबाद हैं और मैच के दूसरे दिन वह अपना शतक पूरा करना चाहेंगे।

भारतीय फील्डरों ने गेंदबाजों का बिल्कुल साथ नहीं दिया और मैच के शुरुआती क्षणों में ही तीन-तीन कैच टपका दिए। शमी के पहले ओवर की तीसरी ही गेंद पर अजिंक्य रहाणे ने एलेस्ट कुक को पहला जीवनदान दे दिया। कुक का जब पहला कैच छूटा तो वह अपना खाता भी नहीं खोल सके थे। वहीं अगले ओवर में एलेस्टर कुक को फिर जीवनदान दे दिया। इस बार कुक का कैच छोड़ा कप्तान विराट कोहली ने। कोहली ने दूसरी स्लिप में इंग्लैंड के कप्तान का कैच टपका दिया। वहीं तीसरा कैच उमेश यादव की गेंद पर मुरली विजय ने छोड़ा। मुरली विजय ने पहली स्लिप में हसीब हमीद का कैच टपकाया।

साफ है भारत के खिलाड़ियों ने मात्र आधे घंटे के अंदर ही इंग्लैंड के दोनों सलामी बल्लेबाजों को तीन-तीन जीवनदान दे दिया। हो सकता है अगर वो कैच पकड़ लिए जाते तो इंग्लैंड के ऊपर और ज्यादा दबाव बन जाता और भारतीय गेंदबाज इंग्लैंड पर हावी हो जाते। लेकिन ऐसा हो नहीं सका और इंग्लैंड की टीम ने पहले दिन बेहतरीन खेल दिखाया और भारतीय गेंदबाजों को जमकर छकाया। तो कह सकते हैं मैच का पहला दिन इंग्लैंड के बल्लेबाजों के नाम रहा।