India vs England 2018, 3rd Test, 5th Day: Trent Bridge, Nottingham Test
Virat Kohli celebrates after India had dismissed Joe Root @ Getty Images

भारत ने इंग्लैंड के खिलाफ ट्रेंट ब्रिज मैदान पर खेले गए तीसरे टेस्ट मैच में एक तरफा प्रदर्शन कर मेजबान टीम को 203 रनों की करारी शिकस्त के लिए मजबूर कर दिया। पहले दिन से भी भारतीय टीम इंग्लैंड पर हावी थी। भारत ने इंग्लैंड के सामने चौथी पारी में 521 रनों का विशाल लक्ष्य रखा था। आखिरी दिन बुधवार को रविचंद्रन अश्विन ने जेम्स एंडरसन (11) के रूप में इंग्लैंड का आखिरी विकेट 317 के कुल स्कोर पर लेकर भारत को सीरीज की पहली जीत दिलाई। भारत अभी भी सीरीज में 1-2 से पीछे है।

इंग्लैंड को इस स्कोर तक ढेर करने में पांच विकेट लेने वाले जसप्रीत बुमराह का अहम योगदान रहा। उनके अलावा ईशांत शर्मा ने दो विकेट अपने नाम किए। रविचंद्रन अश्विन, मोहम्मद शमी, हार्दिक पांड्या ने एक-एक विकेट अपने नाम किए। भारत ने पहली पारी में 329 रन बनाए थे और हार्दिक पांड्या के पांच विकेटों के दम पर इंग्लैंड को पहली पारी में 161 रनों पर ही ढेर कर दिया था। भारत ने कप्तान कोहली (103) के 23वें टेस्ट शतक के दम पर अपनी दूसरी पारी सात विकेट के नुकसान पर सात विकेटों के नुकसान पर 352 रनों पर घोषित कर इंग्लैंड को 521 रनों का लक्ष्य दिया था।

चौथे दिन ही इंग्लैंड ने अपने नौ विकेट महज 311 रनों पर खो दिए थे। आखिरी दिन भारत की जीत तय लग रही थी। अश्विन ने पांचवें दिन के तीसरे ओवर की पांचवीं गेंद पर एंडरसन को आउट कर भारत को सीरीज में वापसी करने का मौका दिया। अश्विन की उछाल भरी गेंद एंडरसन के दस्तनों से लग कर हवा में गई और रहाणे ने आसान सा कैच पकड़ इंग्लैंड की पारी का अंत किया। आदिल राशिद 33 रनों पर नाबाद लौटे।

इंग्लैंड के लिए जोस बटलर ने सबसे ज्यादा 106 रन बनाए। इस शतकीय पारी के लिए उन्होंने 251 गेंदों का सामना करते हुए 21 चौके लगाए। उनके अलावा बेन स्टोक्स ने 275 गेंदों में छह चौकों की मदद से 62 रनों की साझेदारी की। इन दोनों ने चौथे दिन पांचवें विकेट के लिए 169 रनों की साझेदारी कर इंग्लैंड की उम्मीदों को जिंदा रखा था। बुमराह ने बटलर को पगबाधा कर इस साझेदारी को तोड़ा।

भारत के लिए दूसरी पारी में कोहली के अलावा चेतेश्वर पुजारा ने 72 और हार्दिक पांड्या ने नाबाद 52 रनों की पारी खेली।