India vs England 4th Test: Farokh Engineer recalls Oval Test of 1971
Farukh Engineer @ Twitter

पूर्व क्रिकेटर फारुख इंजीनियर (Farokh Engineer) ने 1971 में ओवल में इंग्लैंड में टीम इंडिया की पहली टेस्ट जीत को एक दिलचस्प कहानी के साथ याद किया। इंजीनियर ने कहा, पचास साल पहले, बेला नाम के एक हाथी को भारतीय प्रशंसकों द्वारा चेसिंगटन चिड़ियाघर से उधार लेकर मैदान पर लाया गया था, यह सोचकर कि यह उनके लिए भाग्य लाएगा। पहले दो टेस्ट ड्रॉ होने के बाद भारत के पूर्व विकेटकीपर जिन्होंने एतिहासिक जीत में अहम भूमिका निभाई थी। उन्होंने कहा, “वे गलत नहीं थे।”

डेली मेल की एक रिपोर्ट में कहा गया है कि हाथी को गणेश उत्सव के अवसर पर ओवल में लाया गया था। गणेश को बाधाओं को दूर करने के रूप में जाना जाता है, हाथी ने अजीत वाडेकर के तरफ देखा और बाधा को तोड़ दिया, उसके बाद 1932 में इंग्लैंड का दौरा ऐतिहासिक साबित हुआ।

Shardul Thakur ने 31 गेंद पर अर्धशतक जड़ तोड़ा वीरेंद्र सहवाग का रिकॉर्ड, कपिल देव अब भी नंबर-1

इंजीनियर (Farokh Engineer) ने कहा कि ऐसा नहीं है कि वाडेकर खुद बहुत ज्यादा ध्यान दे रहे थे। “वह ड्रेसिंग रूम में सो रहा था।” “वहां हम देश के इतिहास में सबसे महत्वपूर्ण खेल जीत रहे थे, और वह सो रहा था! मुझे आश्चर्य है कि भीड़ ने उसे नहीं जगाया। लंदन में ऐसा कोई भारतीय नहीं था जो उस वक्त ओवल में मैजूद नहीं था।”

यह एक ऐसी सफलता थी, जिसने भारत के क्रिकेट के इतिहास को बदल दिया। उन्होंने कहा, “इंग्लैंड दौरे के लिए मुझे एक दिन में 1 पाउंड मिलता था, ओवल में जीतने के लिए मुझे पांच दिनों के लिए पांच पाउंड मिले थे।” “उस समय अमीर बनने के लिए शायद ही क्रिकेट खेला जाता था। जब मैं भारत में टेस्ट मैच खेलता था, मुझे एक दिन में 50 रुपये मिलते थे, जो 50 पैसे के बराबर है।”

…जब भारत को पहली जीत दिलाने के लिए मैदान पर लाया गया ‘हाथी’

“पैसे को भूल जाइए हालांकि, उस सीरीज ने भारतीय क्रिकेट के बदलाव में एक बड़ी भूमिका निभाई। अचानक उस दौरे पर सभी खिलाड़ी सुपरस्टार के रूप देखे जाने लगे। वे ‘राइम मिनिस्टर’ के घर पर थे .. वे सभी हीरो थे। यह ऐसा था जैसे उन्होंने अभी-अभी एवरेस्ट फतह किया हो।”

इंजीनियर (Farokh Engineer) ने कहा, “50 साल हो गए, फिर से हमें ओवल में खेलना है और सीरीज को देखते हुए, केवल एक चीज के बारे में आश्वस्त हूं। ‘वह हाथी’ वापस नहीं आएगा। उन्होंने हंसते हुए आगे कहा, अब वह विक्टोरिया लाइन पर फिट भी नहीं आएगी।”