भारत और इंग्‍लैंड (India vs England) के बीच खेले गए सीरीज के चौथे टी20 मुकाबले के दौरान अतिम औवर में इंग्लिश टीम को जीत के लिए 23 रन की दरकार थी. लेकिन पहली तीन गेंदों पर शार्दुल ठाकर (Shardul Thakur) ने 11 रन लुटाने के बाद लगातार दो वाइड गेंद फेंक दी.

मुश्किल वक्‍त में हार्दिक पांड्या (Hardik Pandya) गेंदबाज शार्दुल ठाकुर से बात करने पहुंचे. पांड्या की सलाह पर चलते हुए आखिरी तीन गेंदो पर ठाकुर ने शानदार वापसी करते हुए महज एक रन दिया और एक विकेट भी निकाला. मैच के बाद हार्दिक पांड्या ने बताया कि उनके और ठाकुर के बीच क्‍या बातचीत हुई थी.

हार्दिक (Hardik Pandya) ने कहा, “कुछ खास नहीं. ये सवाल था कि हम दो गुड लेंथ गेंद डालें. हमारे पास बचाव के लिए काफी रन थे. हमारा फोकस यही होना चाहिए था कि हम इंग्‍लैंड के बल्‍लेबाजों को लेंथ गेंद फेंके. एक गेंदबाज के तौर पर मेरा मानना है कि ऐसी स्‍लो गेंद जो विकेट पर जाकर लग रही हो उसपर बड़ा शॉट मारना मुश्किल होता है.”

“मैच के दौरान काफी ड्यू था. जिसके कारण आखिरी ओवर्स में गेंद भी बदलना पड़ा था. ऐसे में हम सोच रहे थे कि धीमी गेंद को विकेट पर पटका जाए ताकि वो बल्‍लेबाजी कर रहे निचले मध्‍यक्रम के बल्‍लेबाजों को गुड लेंथ पर खेलने को मिले. स्‍पेशलिस्‍ट बल्‍लेबाज नहीं होने के कारण ऐसी गेंद का सामना करना उनके लिए आसान नहीं होगा.”