भारतीय टीम © AFP
भारतीय टीम © AFP

भारत और इंग्लैंड के बीच टेस्ट सीरीज का पांचवां और आखिरी मैच चेन्नई में खेला जाना है। दोनों ही टीमें चेन्नई पहुंच चुकीं हैं। दोनों टीमों के बीच 16 दिसंबर से आखिरी टेस्ट मैच खेला जाना है। लेकिन चेन्नई इस समय वरदा तूफान की चपेट में है और इस कारण दोनों टीमों को अभ्यास करने का मौका नहीं मिला। भारत सीरीज में 3-0 से आगे है और सीरीज को 4-0 से जीतनी उम्मीद लगाए बैठा है। वहीं इंग्लैंड सीरीज के आखिरी मैच को जीतकर अपनी खोई प्रतिष्ठा पाने की जद्दोजहद में जुटा है। लेकिन अभ्यास ना कर पाने से दोनों टीमों खासकर इंग्लैंड को एक बड़ा झटका लगा है।

तमिलनाडु क्रिकेट एसोसिएशन के सचिव काशी विश्वनाथन ने कहा, ‘हमनें दोनों की टीमों को इस बात की सूचना दे दी है कि वरदा तूफान की वजह से वो अभ्यास नहीं कर पाएंगी साथ ही हमनें इस बात की जानकारी बीसीसीआई को भी दे दी है। तूफान की वजह से अभ्यास करने वाला हिस्सा सही नहीं है और अभ्यास के लायक नहीं है। हालांकि इनडोर सुविधाएं काफी अच्छी हैं लेकिन तूफान के कारण वहां पानी घुस गया है जिसके कारण वहां अभ्यास कर पाना मुमकिन नहीं है। लेकिन अगर टीमें हमसे कहेंगी तो हम इनडोर नेट्स मुहैया कराने की पूरी कोशिश करेंगे।’  ये भी पढ़ें: विराट कोहली दुनिया के सबसे अच्छे बल्लेबाज हैं: माइकल क्लार्क

विश्वनाथन ने आगे कहा कि मौसम खुल चुका है और अचानक बारिश होने की कोई संभावना नहीं है। पिच और आउटफील्ड तूफान से ज्यादा प्रभावित नहीं हुई है और हमारे पास मैदान को सुखाने के लिए अच्छी सुविधाएं हैं और शुक्रवार से पहले हम मैदान को पूरी तरीके से तैयार कर देंगे। लेकिन मैदान के कुछ हिस्से बुरी तरह प्रभावित हुए हैं और उन्हें ठीक करने के लिए हमें दिन-रात जुटना होगा। अगले 48 घंटे बेहद ही मुश्किल होने वाले हैं। साइटस्क्रीन क्षतिग्रस्त हो चुकी है उसे भी ठीक करना होगा, साथ ही पूरे स्टेडियम के एंट्रेस में हर तरफ पेड़ गिर गए हैं और हमें उन्हें भी हटाना होगा।

आपको बता दें कि भारत सीरीज पहले ही जीत चुका है और भारतीय टीम आखिरी मैच को जीतकर सीरीज को 4-0 से अपने नाम करना चाहेगी।