तीसरे वनडे में खेल सकते हैं अजिंक्य रहाणे। © Getty Images
तीसरे वनडे में खेल सकते हैं अजिंक्य रहाणे। © Getty Images

भारत ने इंग्लैंड के खिलाफ वनडे सीरीज में 2-0 से जीत हासिल कर ली है। पुणे में खेला गया पहला वनडे और कटक में आयोजित दूसरे वनडे में जो बात समान थी वह यह कि भारत ने शुरुआती विकेट जल्दी खो दिए। पुणे में जहां 65 पर भारत के चार विकेट गिर चुके थे वहीं कटक में 25 के स्कोर पर भारत के तीन शीर्ष खिलाड़ी पवेलियन लौट चुके थे। टीम इंडिया की इस कमी का सबसे बड़ा कारण है लगातार फ्लॉप होती सलामी जोड़ी। अब विराट कोहली इस परेशानी का हल निकालने के लिए कोई बड़ा फैसला ले सकते हैं। उम्मीद है कि अगले वनडे में शिखर धवन की जगह अजिंक्य रहाणे को मौका मिल सकता है। ये भी पढ़ें:कटक वनडे में टीम इंडिया का रिपोर्ट कार्ड

हालांकि शिखर धवन के जोड़ीदार के एल राहुल का प्रदर्शन भी दोनों वनडे मैचों में कुछ खास प्रदर्शन नहीं किया है। राहुल ने पहले वनडे आठ रन बनाए थे वहीं दूसरे वनडे में वह केवल पांच रन बनाकर आउट हो गए। शिखर धवन ने पहले और दूसरे वनडे में 1 और 11 रन बनाए थे। हालांकि दोनों में से केवल एक ही खिलाड़ी को बाहर किया जा सकता है क्योंकि रोहित शर्मा के बाहर होने के चलते टीम के पास रहाणे के अलावा विकल्प नहीं है। अगर आंकड़ों की बात करें तो धवन मे पिछले एक साल में केवल चार वनडे मैच खेले हैं जिसमें उन्होंने एक शतक और अर्धशतक की मदद से 216 रन बनाए हैं। इंग्लैंड के खिलाफ वनडे सीरीज में चयन के पहले वह ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 2016 में खेले थे। जिसके बाद उन्हें न्यूजीलैंड के खिलाफ सीरीज में चोट के कारण टीम के बाहर रखा गया। वहीं रहाणे भी इंग्लैंड के खिलाफ खेलने से पहले चोट के कारण टीम के बाहर थे। एक साल में खेले गए पांच वनडे मैचों में उन्होंने 209 रन बनाए हैं जिसमें एक शतक और एक अर्धशतक शामिल है। रहाणे पूर्ण सलामी बल्लेबाज तो नहीं कहे जा सकते पर कई मौकों पर उन्होंने भारत के लिए पारी की शुरुआत की है और रन बनाए हैं। पिछले एक साल में उन्होंने छह वनडे मैच खेले हैं जिसमें उनके नाम केवल 145 रन हैं जिसमें कोई शतक नहीं है लेकिन एक अर्धशतक जरूर है। इन आंकड़ों पर गौर करें तो धवन और राहुल ही बेहतर विकल्प लगते हैं लेकिन पिछले दो मैचों में वह रन नहीं बना पाए हैं। साथ ही अगर उनके विकेट को देखा जाय तो कई बार वह गेंदबाज की चालाकी का शिकार बने हैं कभी अपनी विकेट खुद गेंदबाज के हाथ में दी है। ये भी पढ़ें:इतिहास के पन्नों से: जब 414 रन बनाकर भी केवल तीन रन से जीती थी टीम इंडिया

कोलकाता में 22 जनवरी को खेला जाने वाला तीसरे वनडे भारतीय टीम के लिए मात्र औपचारिकता है क्योंकि वह सीरीज तो पहले ही जीत चुके हैं। अब मुमकिन है कि कप्तान कोहली शिखर या राहुल की जगह रहाणे को अंतिम एकादश में मौका दें। इन तीनों खिलाड़ियों में रहाणे ही अकेले हैं जिन्होंने हाल ही में न्यूजीलैंड के खिलाफ वनडे सीरीज खेली है इसका फायदा भी उन्हें मिल सकता है।