5 फरवरी से भारत के खिलाफ चार मैचों की टेस्ट सीरीज शुरू करने जा रही इंग्लैंड क्रिकेट टीम को चेन्नई टेस्ट से पहले अभ्यास करने के लिए केवल तीन दिन मिलेंगे। दरअसल इंग्लैंड टीम फिलहाल श्रीलंका में दो टेस्ट मैचों की सीरीज खेल रही है जो कि 26 जनवरी को खत्म होगी।

27 जनवरी को भारत पहुंचने पर इंग्लैंड टीम को छह दिन तक क्वारेंटीन में रहना पड़ेगा। जिस वजह से टीम को पांच फरवरी से शुरू होने वाले पहले टेस्ट मैच के लिए अभ्यास करने को लेकर केवल तीन दिन का समय मिलेगा।

‘द टेलीग्राफ’ की रिपोर्ट के अनुसार इंग्लैंड की टीम बुधवार, 27 जनवरी को चेन्नई पहुंचेगी जहां चार मैचों की सीरीज के पहले दो मैच खेले जाएंगे। चेन्नई पहुंचने पर टीम को छह दिन कड़े क्वारेंटीन में बिताने होंगे।

श्रीलंका दौरे पर नहीं जाने वाले बेन स्टोक्स, जोफ्रा आर्चर और रोरी बर्न्स रविवार की रात को ही भारत पहुंच गए और उन्हें होटल में क्वारेंटीन में रहने के बाद अभ्यास के लिए पांच दिन का समय मिलेगा। क्वारेंटीन के दौरान सभी खिलाड़ियों के तीन कोविड-19 टेस्ट होंगे।

इंग्लैंड के खिलाड़ियों को श्रीलंका पहुंचने पर 48 घंटे बाद अभ्यास की अनुमति मिल गई थी। इंग्लैंड के खिलाड़ियों में से केवल मोईन अली को आगमन पर पॉजिटिव पाया गया था।

भारत महामारी के बीच पहली अंतरराष्ट्रीय श्रृंखला का आयोजन करेगा। भारतीय क्रिकेट बोर्ड के लिए इस सीरीज का आयोजन इंडियन प्रीमियर लीग के 14वें सीजन से पहले लिटमस टेस्ट होगा। अगर बीसीसीआई भारत-इंग्लैंड सीरीज का सफल आयोजन कर पाता है तो आईपीएल के आगामी सीजन का भारत में खेला जाना निश्चित हो जाएगा।