पूर्व सलामी बल्‍लेबाज आकाश चोपड़ा (Aakash Chopra) इस बात से हैरान हैं कि भारतीय टीम मैनेजमेंट इंग्‍लैंड के खिलाफ टेस्‍ट सीरीज के दौरान केएल राहुल (KL Rahul) को मध्‍यक्रम में ही खिलाने पर अड़ा हुआ है. उनका मानना है कि राहुल का बतौर ओपनर रिकॉर्ड काफी अच्‍छा है. उन्‍हें इस भूमिका के लिए नजरअंदाज नहीं किया जाना चाहिए.

अपने यू-ट्यूब चैनल पर आकाश चोपड़ा (Aakash Chopra) ने कहा, “केएल राहुल भी टीम के साथ उपलब्‍ध है. ऐसा कहा जा रहा है कि वो ओपनिंग में नहीं खेलेंगे. टीम मैनेजमेंट पहले ही इस बात की घोषणा कर चुका है कि केएल राहुल मिडल ऑडर में खेलेंगे. आप अचानक से केएल राहुल (KL Rahul) को मिडल ऑर्डर पर खिलाना क्‍यों चाहते हो.”

“ये काफी हैरान करने वाला निर्णय है क्‍योंकि वो पांच टेस्‍ट शतक लगा चुके हैं, सभी टॉप ऑर्डर में खेलते हुए ही आए हैं. मुझे नहीं पता, मुझे हमेशा लगा था कि वो एक बैकअप ओपनर हैं लेकिन वो नहीं हैं. यहां तक क‍ि इन अलग परिस्थितियों में भी उनसे ओपनिंग कराने पर विचार नहीं किया जा रहा है.”

आकाश चोपड़ा (Aakash Chopra) ने आगे कहा, “जब टीम मैनेजमेंट की तरफ से शुबमन गिल के रिप्‍लेसमेंट के लिए पृथ्‍वी शॉ और देवदत्‍त पडीक्‍कल को भेजने की मांग रखी गई तो चयनकर्ताओं ने मना कर दिया. उनका कहना है कि वो ऐसा नहीं कर सकते. वो श्रीलंका में किसी मकसद से हैं. आपके पास पहले से ही रिप्‍लेसमेंट उपलब्‍ध है.”

“अगर पृथ्‍वी और देवदत्‍त को नहीं भेजा जा रहा तो मेरी नजर में चयनकर्ता गलत नहीं हैं क्‍योंकि श्रीलंका अभी रेड लिस्‍ट में है. अगर वो क्‍वारंटाइन पूरा करने के बाद इंग्‍लैंउ पहुंच भी जाते हैं तो भी क्‍या गारंटी है क‍ि मयंक अग्रवाल, अभिमन्‍यू ईश्‍वरन के होते हुए उन्‍हें खिलाया जाएगा.”