हार्दिक पंड्या ने वनडे में अच्छा प्रदर्शन किया था © Getty Images
हार्दिक पंड्या ने वनडे में अच्छा प्रदर्शन किया था © Getty Images

इंग्लैंड के खिलाफ होने वाली पांच मैचों की टेस्ट सीरीज के लिए हार्दिक पंड्या को भारतीय टीम में चुना गया है। जैसे ही पंड्या को भारतीय टीम में चुना गया वैसे ही पंड्या के चयन को लेकर कई लोगों को आपत्ति हुई। पांच मैचों की टेस्ट सीरीज का पहला मैच 9 नवंबर को खेला जाना है। ऐसे में पंड्या अपने प्रदर्शन से अपने आलोचकों को करारा जवाब देना चाहेंगे। दरअसल, पंड्या ने घरेलू सरजमीं पर ज्यादा मैच नहीं खेले थे ऐसे में उनके चयन पर सवाल उठना लाजमी था। पंड्या ने अब तक प्रथम श्रेणी के 16 मैचों में 27 की औसत से 727 रन बनाए हैं और 22 विकेट लिए हैं। घरेलू मैचों में कई ऐसे खिलाड़ी रहे जिनका प्रदर्शन पंड्या से भी काफी अच्छा रहा लेकिन पंड्या को उन सबसे प्राथमिकता दी गई और भारतीय टीम में खेलने का मौका मिला।

पंड्या का वनडे में पदार्पण यादगार रहा था और उन्होंने अपने पहले वनडे मैच में 3 विकेट हासिल किए थे जिसमें भारत ने 6 विकेट से जीत हासिल की थी। बीसीसीआई टीवी से बोलते हुए पंड्या ने कहा ‘टेस्ट में खेलना मेरे करियर का सबसे यादगार और गौरवान्वित क्षण रहा। मुझे नहीं पता कि टीम में चयन के बाद मेरे फोन में कितनी मिस्ट कॉल थीं, मैं उन सभी का शुक्रगुजार हूं जिन्होंने मुझे शुभकामनाएं भेजीं। मैंने टेस्ट क्रिकेट देखने के बाद ही क्रिकेट खेलना शुरू किया था और मेरा कपना था कि मैं भारत के लिए सफेद जर्सी पहनकर खेलूं।’ ये भी पढ़ें: टेस्ट क्रिकेट में लक्ष्य का पीछा करने वाली 10 सबसे सफल टीमें 

पंड्या ने कहा कि जब आपको टेस्ट खेलने का बुलावा आता है तो ये आपके लिए सबसे फक्र की बात होती है और आपकी जिंदगी का सबसे अच्छा लम्हा होता है और मेरी जिंदगी का सबसे यादगार लम्हा था। साथ ही पंड्या ने राहुल द्रविड़ के बारे में भी कहा ‘राहुल द्रविड़ की देखरेख में मैंने बहुत कुछ सीखा और समझा है। राहुल के साथ बिताए हुए 50 दिन बहुत अनमोल थे, मैं अक्सर राहुल से सवाल करता रहता था, वह सिर्फ मुझसे एक ही बात करते थे कि मुझे भरोसा है कि तुम टेस्ट क्रिकेट खेल सकते हो। द्रविड़ ने मुझसे कहा कि क्रिकेट का खेल हालात पर निर्भर करता है और सत्र दर सत्र आपको बल्लेबाजी करनी होती है।’ पंड्या ने कहा कि द्रविड़ ने मुझपर भरोसा जताया और पूरी उम्मीद जताई कि मैं टेस्ट क्रिकेट में अच्छा कर सकता हूं।  ये भी पढ़ें: इंग्लैंड को हराने का ‘R-स्क्वॉयर’ प्लान