भुवनेश्वर कुमार © AFP
भुवनेश्वर कुमार © AFP

कोलकाता। भारतीय टीम के तेज गेंदबाज भुवनेश्वर कुमार ने कहा है कि टीम के पूर्व कप्तान महेन्द्र सिंह धोनी विकेट के पीछे से हर चीज पर बारीक नजर रखते हैं और जरूरत पड़ने पर अपने सुझाव भी देते रहते हैं। भारत और इंग्लैंड के बीच खेली जा रही तीन एकदिवसीय मैचों की श्रृंखला का अंतिम मैच रविवार को यहां के ईडन गरडस स्टेडियम में खेला जा रहा है। पुणे और कटक में खेले गए शुरू के दो मैचों में भारत ने जीत हासिल कर श्रृंखला पहले ही अपने नाम कर ली है। तीसरे मैच से पहले संवाददाता सम्मेलन में भुवनेश्वर ने कहा था, “धोनी हर चीज पर ध्यान देते हैं। वह बताते रहते हैं कि बल्लेबाज कैसे खेल रहा है।” उन्होंने कहा, “जब विराट फील्डिंग करते हैं तो धौनी के लिए अपनी बात कहना आसान हो जाता है। वह बताते हैं कि हम क्या कर सकते हैं। जब आपका विकेटकीपर सक्रिय रहता है तो यह आपके लिए फायदेमंद साबित होता है।” [Also Read: भारत बनाम इंग्लैंड तीसरा वनडे, कोलकाता(लाइव ब्लॉग): भारत ने टॉस जीता पहले गेंदबाजी का फैसला] 

भुवी ने डेथ ओवरों में उम्दा गेंदबाजी का श्रेय इंडियन प्रीमियर लीग को देते हुए कहा था कि रविवार को यहां तीसरे वनडे में इंग्लैंड के खिलाफ टीम बिना किसी दबाव के उतरेगी। भुवनेश्वर ने कहा,”डेथ ओवरों में मेरी गेंदबाजी का श्रेय आईपीएल को जाता है। आईपीएल में डेथ ओवरों में गेंदबाजी से मुझे अनुभव मिला। उसे ध्यान में रखकर मैंने गेंदबाजी की और इसका फायदा मिला।” आईपीएल 2016 में भुवनेश्वर ने 17 मैचों में 23 विकेट लेकर सनराइजर्स हैदराबाद की जीत के सूत्रधार की भूमिका निभाई थी। उन्होंने कहा,”मैं उस समय भारत के लिए खेल रहा था। आईपीएल टीम डेथ ओवरों के लिए काफी हद तक मुझ पर निर्भर थी।” कटक में आखिरी स्पेल के बारे में उन्होंने कहा,”मुझे पता था कि मेरे पांच ओवर बाकी है और खेल का पासा किसी भी तरफ पलट सकता है। मुझे पता था कि कैसे गेंदबाजी करनी है और इसका श्रेय आईपीएल को जाता है। दबाव था और ओस भी थी लेकिन पहला ओवर डालते ही मेरा आत्मविश्वास लौट आया।”