India vs England: Need to stop comparing Rishabh Pant with other players, says Ravichandran Ashwin
(BCCI)

भारतीय टीम के सीनियर स्पिनर रविचंद्रन अश्विन ने फैंस और समीक्षकों से विकेटकीपर रिषभ पंत की तुलना दूसरे खिलाड़ियों से ना करने की अपील की है। पंत की तुलना अक्सर पूर्व दिग्गज महेंद्र सिंह धोनी के साथ की जाती है, वहीं टेस्ट टीम के दूसरे विकेटकीपर ऋद्धिमान साहा भी उन खिलाड़ियों में शामिल है जिनसे पंत की काबिलियत को तोला जाता है।

अश्विन ने कहा, ‘‘उनकी तुलना लगातार दिग्गज महेंद्र सिंह धोनी से की जाती रही है, अब उनकी विकेटकीपिंग की तुलना ऋद्धिमान साहा से की जा रही है। कई बार इस तरह की तुलनाओं को बंद करने की जरूरत होती है तभी खिलाड़ी का आत्मविश्वास बढ़ता है।’’

इस टेस्ट की पहली पारी में 29वीं बार पांच विकेट लेने वाले अश्विन ने कहा कि पंत अच्छी बल्लेबाजी कर रहे है और वो विकेटकीपिंग पर काफी मेहनत कर रहे है।

उन्होंने कहा, ‘‘कई बार सालों तक बेहतरीन प्रदर्शन करने वाले खिलाड़ी से आपकी तुलना की जाती है, ये आपके लिए काफी मुश्किल हो सकता है। मैं इस मामले में रिषभ के बारे में सोचता हूं। रिषभ के पास क्षमता है और इसलिए वो यहां है और मुझे इसमें कोई शक नहीं कि वो अपने प्रदर्शन में और सुधार करेंगे।’’

अश्विन ने पूर्व कप्तान माइकल वॉन को दिया जवाब- ‘मुझे नहीं लगता पिच को लेकर कोई शिकायत है’

ऑस्ट्रेलिया में भारत को सीरीज जीताने में अहम भूमिका निभाने वाले पंत ने कहा था कि जब धोनी से उनकी तुलना होती है तो उन्हें अच्छा लगता है लेकिन वो खुद अपनी पहचान बनाना चाहेंगे।

टेस्ट में वामहस्त बल्लेबाजों का विकेट लेने के मामले में अश्विन शीर्ष पर है और उन्होंने माना कि ऑफ स्पिनरों के लिए बाएं हाथ के बल्लेबाजों को गेंदबाजी करना थोड़ा आसान होता है। उन्होंने कहा कि वो पिछले कुछ समय से खेल के विभिन्न पहलुओं पर काम कर रहे है। अश्विन ने रविवार को टेस्ट क्रिकेट में बाएं हाथ के बल्लेबाज का 200वां विकेट लिया है।

उन्होंने कहा, ‘‘ मुझे याद नहीं है कि यह कैसे शुरू हुआ, ईमानदारी से कहूं तो बायें हाथ के बल्लेबाजों के लिए गेंद बाहर की ओर निकलती है और इससे ऑफ स्पिनर के लिए चीजें आसान हो जाती है। ऐसे ही बाएं हाथ के स्पिनर के लिए दायें हाथ के बल्लेबाजों को गेंदबाजी करना थोड़ा आसान होता है।’’