live cricket score, live score, live score cricket, india vs england live, india vs england live score, ind vs england live cricket score, india vs england 1st test match live, india vs england 1st test live, cricket live score, cricket score, cricket, live cricket streaming, live cricket video, live cricket, cricket live rajkot
विराट कोहली से टीम को बहुत उम्मीदें होंगी © Getty Images

भारत के टेस्ट कप्तान विराट कोहली की बल्लेबाजी पर शायद ही कोई उंगली उठाए, विराट इतने बेहतरीन खिलाड़ी हैं कि कोई भी उनके बारे में कुछ नहीं बोल सकता। इंग्लैंड के खिलाफ खेली जाने वाली आगामी सीरीज में भी विराट की बल्लेबाजी टीम के लिए बेहद अहम रहेगी। टेस्ट टीम की कमान मिलने के बाद विराट ने अपनी बल्लेबाजी में सुधार किया है और पहले से ज्यादा प्रभावित किया है। बतौर टेस्ट कप्तान विराच का रिकॉर्ड भी शानदार है। विराट की कप्तानी में भारत अभी तक कोई टेस्ट सीरीज नहीं हारा है।

लेकिन अगर हम इंग्लैंड के खिलाफ कोहली की बल्लेबाजी की बात करें तो यहां कोहली थोड़े फीके मालूम पड़ते हैं। इंग्लैंड के खिलाफ विराट की बल्लेबाजी के रिकॉर्ड को देखें, तो यहां चिंता की बात दिखाई देती है। भले ही विराट दुनिया भर के गेंदबाजों के लिए एक मुश्किल चुनौती हों, लेकिन अब तक इंग्लैंड के गेंदबाज उन पर भारी पड़े हैं। 2014 की गर्मियों में जब टीम इंडिया इंग्लैंड के दौरे पर गई थी, वहां विराट बुरी तरह से फ्लॉप हुए थे। 5 टेस्ट मैचों की इस सीरीज को भारत ने 3-1 से गंवाया था। इस टेस्ट सीरीज की 10 पारियों में विराट के बल्ले से महज 134 रन ही निकले थे। सीरीज हारने के बाद आलोचकों के निशाने विराट का नाम भी था।  ये भी पढ़ें: पांच बेहतरीन बल्लेबाज जिन्होंने गेंदबाजी में भी दिखाया कमाल

विराट कोहली के लिए यह सीरीज किसी बुरे सपने से कम नहीं थी। इस सीरीज में इंग्लैंड के तेज गेंदबाज जेम्स एंडरसन ने विराट कोहली को चार बार पविलियन भेजा था। इस पूरी सीरीज में वह हाफ सेंचुरी तक नहीं जमा पाए थे। दो बार तो विराट बिना खाता खोले ही पविलियन लौट गए थे। इंग्लैंड दौरे पर कोहली ने (1,8,25,0,39,28,0,7,6,20) रन बनाए थे। आंकड़ों से साफ है कि इंग्लैंड में कोहली ने बुरी तरह से संघर्ष किया था और एक बार भी अर्धशतक नहीं लगा सके थे। वहीं चार साल पहले जब इंग्लैंड की टीम भारत आई थी तो कोहली ने (19,14,19,7,6,20,103) रन बनाए थे। तो साफ है कि इंग्लैंड के खिलाफ कोहली का बल्ला अब तक खामोश ही रहा है। अब देखना ये होगा कि इस सीरीज में कोहली इंग्लैंड के गेंदबाजों से बदला ले पाएंगे या नहीं।  ये भी पढ़ें: हार्दिक पंड्या की टेस्ट टीम में क्यों नहीं बनती जगह?