विराट कोहली  © AFP (File Photo)
विराट कोहली © AFP (File Photo)

मुंबई में खेले जा रहे पहले वनडे मैच में भारतीय टीम ने न्यूजीलैंड के सामने जीत के लिए 281 रनों का लक्ष्य रखा है। टीम इंडिया ने 50 ओवरों में 280/8 का स्कोर बनाया। भारत की तरफ से कप्तान विराट कोहली ने बेहतरीन बल्लेबाजी की और 200वें वनडे मैच को यादगार बनाते हुए शानदार शतक ठोका। कोहली के वनडे करियर का ये 31वां शतक था। इस शतक के साथ ही कोहली ने सबसे ज्यादा शतक के मामले में रिकी पॉन्टिंग को भी पीछे छोड़ दिया। कोहली (121) के अलावा भारत का कोई और बल्लेबाज कुछ खास नहीं कर सका। न्यूजीलैंड की तरफ से ट्रेंट बोल्ट ने सबसे ज्यादा (4), टिम साऊदी ने (3), मिचेल सैंटनर 1 खिलाड़ी को आउट किया।

भारत की खराब शुरुआत: टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने उतरी टीम इंडिया की शुरुआत बेहद खराब रही और बोल्ट ने शिखर धवन (9) और रोहित शर्मा (20) को पवेलियन भेज भारत को शुरुआती झटके दिए। 29 रन पर 2 विकेट गिरने के बाद अभी भारत के स्कोर में 42 रन और जुड़े थे कि सैंटनर ने जाधव (12) को आउट कर भारत को तीसरा झटका दे दिया। टीम इंडिया के 3 विकेट सिर्फ 71 रनों पर गिर चुके थे।

कोहली-कार्तिक ने संभाली पारी: 3 विकेट गिर जाने के बाद कोहली ने कार्तिक के साथ मिलकर पारी को संभाला। दोनों ने भारत के स्कोर को लगातार आगे बढ़ाया और कमजोर गेंदों को बाउंड्री के पार भी पहुंचाया। इस बीच दोनों ने भारत के स्कोर को 100 के पार भी पहुंचा दिया। इसी बीच कोहली ने अपना अर्धशतक भी पूरा कर लिया। दोनों बल्लेबाज अब टिकते दिख रहे थे लेकिन इसी बीच कार्तिक बड़ा शॉट खेलने के चक्कर में साऊदी का शिकार हो गए। आउट होने से पहले कार्तिक ने (37) रनों की पारी खेली।

निचले क्रम के साथ मिलकर कोहली ने पूरा किया शतक: इसके बाद कोहली ने पहले धोनी के साथ मिलकर भारत के स्कोर को 200 के पार पहुंचा दिया। इसके बाद उन्होंने रनरेट को तेजी दी और कीवी टीम के गेंदबाजों को जमकर धोया। दूसरे छोर पर धोनी भी टिकते नजर आ रहे थे लेकिन धोनी बड़ी पारी नहीं खेल सके और (25) रन बनाकर बोल्ट का तीसरा शिकार बन गए। हालांकि धोनी के आउट होने के बाद भी कोहली ने पांड्या के साथ मिलकर रन बनाना जारी रखा और इसी बीच उन्होंने अपना 31वां शतक भी पूरा कर लिया। इस दौरान टीम इंडिया ने पांड्या (16) का विकेट भी खो दिया।

भारत ने बनाए 280 रन: आखिर में कोहली की दमदार पारी की बदौलत टीम इंडिया ने 50 ओवरों में 280/8 का स्कोर खड़ा किया। आखिर ओवरों में कोहली ने और आक्रामक होकर बल्लेबाजी की और कीवी टीम के गेंदबाजों पर कहर बनकर टूटे।  हालांकि जरूरत से ज्यादा तेज खेलने के चक्कर में कोहली आखिरी ओवर में (121) रन बनाकर आउट हो गए लेकिन अंत में भुवनेश्वर कुमार ने बेहतरीन बल्लेबाजी की और (26) रन बनाकर आउट हिए।