विराट कोहली और मैदान पर  फ्लड लाइट के मिजाज, फोटो साभार Getty Images and Twitter
विराट कोहली और मैदान पर फ्लड लाइट के मिजाज, फोटो साभार Getty Images and Twitter

भारत और न्यूजीलैंड के बीच मुंबई के वानखेड़े स्टेडियम में खेले जा रहे पहले वनडे मैच को उस वक्त थोड़ी देर के लिए रोकना पड़ा जब मैदान में लगे एक लाइट टावर की बत्तियां नहीं जलीं जिसके कारण मैदान में पर्याप्त रौशनी का आभाव नजर आने लगा और मैच को थोड़ी देर के लिए अंपायरों ने रोक दिया। यह वाकया न्यूजीलैंड की पारी के चौथे ओवर के दौरान घटा। जब ये वाकया घटा तो अंपायरों ने न्यूजीलैंड के ओपनरों को इंतजार करने के लिए कहा और टीम इंडिया के खिलाड़ी झुंड के साथ मैदान के एक छोर पर खड़े हो गए। बहरहाल, खेल ज्यादा देर तक नहीं रुका रहा और कुछ ही पलों में टावर की फ्लड लाइट जल उठीं और मैच एक बार फिर से शुरू हो गया।

इससे पहले भारतीय टीम ने न्यूजीलैंड के सामने जीत के लिए 281 रनों का लक्ष्य रखा। टीम इंडिया ने 50 ओवरों में 280/8 का स्कोर बनाया। भारत की तरफ से कप्तान विराट कोहली ने बेहतरीन बल्लेबाजी की और 200वें वनडे मैच को यादगार बनाते हुए शानदार शतक ठोका। कोहली के वनडे करियर का ये 31वां शतक था। इस शतक के साथ ही कोहली ने सबसे ज्यादा शतक के मामले में रिकी पॉन्टिंग को भी पीछे छोड़ दिया। कोहली (121) के अलावा भारत का कोई और बल्लेबाज कुछ खास नहीं कर सका। न्यूजीलैंड की तरफ से ट्रेंट बोल्ट ने सबसे ज्यादा (4), टिम साऊदी ने (3), मिचेल सैंटनर 1 खिलाड़ी को आउट किया।

 

विराट कोहली ने अपने 31 वनडे शतक तक पहुंचने के लिए केवल 192 पारियों का इस्तेमाल किया है। जबकि सचिन तेंदुलकर ने 271 वनडे पारियों के बाद 31 वनडे शतक पूरे किए थे। गौरतलब है कि सचिन तेंदुलकर वनडे में सबसे ज्यादा 49 शतक लगाने वाले बल्लेबाज हैं।

सचिन तेंदुलकर के नाम घरेलू मैदान पर सबसे ज्यादा 20 शतक लगाने का रिकॉर्ड है। अब कोहली 13 शतक लगाकर रिकी पॉन्टिंग और हाशिम आमला के साथ संयुक्त रूप से दूसरे नंबर पर आ गए हैं।