विराट कोहली © Getty Images
विराट कोहली © Getty Images

विराट कोहली जब भी मैदान में उतरते हैं उनके बल्ले से रन तो निकलते ही हैं साथ में वो कई रिकॉर्ड भी तोड़ डालते हैं। कानपुर वनडे में भी विराट कोहली ने यही किया। विराट कोहली जैसे ही कानपुर में 8 रनों के निजी स्कोर पर पहुंचे, उनके इस साल 2000 से ज्यादा अंतर्राष्ट्रीय रन हो गए। विराट कोहली ने ऐसा करते ही सौरव गांगुली और राहुल द्रविड़ को पीछे छोड़ दिया।

विराट कोहली ने अपने करियर में चौथी बार एक साल में 2000 से ज्यादा अंतर्राष्ट्रीय रन बनाए हैं, जबकि गांगुली और द्रविड़ ने ऐसा 3-3 बार किया था। भारत की ओर से सबसे ज्यादा एक साल में 2000 अंतर्राष्ट्रीय रन बनाने का रिकॉर्ड सचिन तेंदुलकर के नाम है, जिन्होंने 5 बार इस कारनामे को अंजाम दिया है। एक साल में सबसे ज्यादा 2000 अंतर्राष्ट्रीय रन बनाने का वर्ल्ड रिकॉर्ड कुमार संगाकारा के नाम है जिन्होंने 6 बार ऐसा किया है।

विराट कोहली ने 4 बार एक साल में 2000 से ज्यादा अंतर्राष्ट्रीय रन बना दिये हैं और उन्होंने मैथ्यू हेडन, जैक्स कैलिस और महेला जयवर्धने की बराबरी कर ली है। वैसे इस साल की बात करें तो विराट कोहली पहले बल्लेबाज हैं जिन्होंने 2000 अंतर्राष्ट्रीय रन बनाए हैं। विराट कोहली ने इस साल 449 टेस्ट रन, 195 टी20 रन और वनडे में खबर लिखे जाने तक 1372 रन बना लिए थे। विराट कोहली इस साल सबसे ज्यादा 7 शतक लगाने वाले खिलाड़ी हैं। उनका सभी फॉर्मेट में मिलाकर तकरीबन 60 का औसत है।

लगातार 10वीं बार न्यूजीलैंड के खिलाफ फ्लॉप हुई टीम इंडिया की ओपनिंग
लगातार 10वीं बार न्यूजीलैंड के खिलाफ फ्लॉप हुई टीम इंडिया की ओपनिंग

कानपुर वनडे की बात करें तो न्यूजीलैंड की टीम ने टॉस जीता और पहले गेंदबाजी चुनी। भारतीय टीम ने पहला विकेट 29 रनों पर गंवा दिया। टिम साउदी ने शिखर धवन को आउट कर भारत को पहला झटका दिया। इसके बाद रोहित शर्मा ने टीम इंडिया को संभाले रखा और खबर लिखे जाने तक उन्होंने अपना अर्धशतक तो जमाया ही साथ में टीम इंडिया का स्कोर भी 100 रनों के पार पहुंचा दिया।