India vs New Zealand: I won’t be able to comment who would bat at No. 4 in the World Cup; Rohit Sharma
Ambati-Rayudu-Rohit-Sharma © AFP (file image)

कार्यवाहक कप्तान रोहित शर्मा ने न्‍यूजीलैंड के खिलाफ मिली वनडे सीरीज में 4-1 की जीत को बड़ी उपलब्धि बताया है।

भारतीय टीम अंबाती रायडू के 113 गेंदों में खेली गई 90 रन की पारी की बदौलत सीरीज के पांचवें और अंतिम वनडे में प्रतिस्‍पर्धी स्‍कोर खड़ा करने में सफल रही। रोहित ने रायडू की जमकर तारीफ की।

पढ़े: 18/4 के बाद मुझे पिछले मैच जैसे हाल का डर सताने लगा था: रोहित शर्मा

बकौल रोहित, ‘यहां आना और न्यूजीलैंड को 4-1 से मात देना बड़ी उपलब्धि है। वे काफी अच्छा क्रिकेट खेलते हैं इसलिए हमारे लिए यह अच्छी जीत रही। पिछली बार हम न्यूजीलैंड से 0-4 से हार गये थे। हमारे पास कुछ साबित करने के लिए नहीं था लेकिन हम सिर्फ अच्छा क्रिकेट खेलना चाहते थे जो हम पिछले आठ से 10 महीनों से कर रहे हैं।’

रायडू ने विजय शंकर (64 गेंद में 45 रन) के साथ पांचवें विकेट के लिए 98 रन की भागीदारी निभाई।

पढ़ें: मिलर ने 1 ओवर में बटोरे  29 रन, पाक को जीत के लिए 189 का लक्ष्‍य

रोहित ने कहा, ‘ऐसे हालात में बल्लेबाजी करके रायडू के आत्मविश्वास में काफी बढ़ोतरी होगी। हमने 18 रन पर चार विकेट गंवा दिए थे, ऐसे में आपको टीम की मदद करने की जरूरत होती है। वह काफी वर्षों से खेल रहे हैं और उन्‍होंनेने अपने अनुभव का पूरा इस्तेमाल किया। वह काफी अच्छा खेल रहे थे और मैं चाहूंगा कि वह इसी तरह लगातार अच्छा करते रहें। हमें अभी अपनी सरजमीं पर ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ भी पांच और मैच खेलने हैं इसलिए अगर वह इसी तरह बल्लेबाजी करते हैं तो हमारे लिए अच्छा होगा।’

रोहित ने साथ ही कहा, ‘मैं इस पर टिप्पणी नहीं कर पाऊंगा कि विश्व कप में कौन चौथे नंबर पर बल्लेबाजी करेगा लेकिन सीरीज के बारे में बात करते हुए मैं कह सकता हूं कि उसे इस सीरीज से काफी आत्मविश्वास मिलेगा, उन्‍होंने हमारे लिए मैच खत्म किया।’

कार्यवाहक कप्तान रोहित शर्मा ने रविवार को कहा कि उनकी टीम आगामी विश्व कप की तैयारियों के अंतर्गत मुश्किल परिस्थितियों में बल्लेबाजी करना चाहती थी इसलिये उन्होंने यहां पांचवें वनडे में पहले बल्लेबाजी का फैसला किया।

‘विश्व कप की तैयारी के लिए मुश्किल परिस्थितियों में बल्लेबाजी करना चाहते थे’

रोहित ने कहा कि यह जानने के बावजूद कि वेस्टपैक स्टेडियम की पिच पर नमी होगी और यह तेज गेंदबाजों के मुफीद होगी, उन्होंने टॉस जीतकर बल्लेबाजी करने का फैसला किया।

रोहित ने मैच के बाद प्रेस कांफ्रेंस में कहा, ‘मैंने टॉस से पहले पिच को देखा था और जानता था कि इस पर नमी होगी जो शुरू में तेज गेंदबाजों के लिए मददगार होगी। बतौर टीम हम यह देखना चाहते थे कि हम चुनौतियों का सामना कैसे करते हैं क्योंकि विश्व कप के दौरान हमें इस तरह के हालात मिलेंगे।’

उन्होंने कहा, ‘हां, हमने शुरू में चार विकेट जल्दी गंवा दिए, लेकिन यहां हमारे लिए सीखने के लिए था कि हमें कैसे बल्लेबाजी करनी चाहिए जब गेंद स्विंग कर रही हो और परिस्थितियां मुफीद नहीं हों। पहले 30 ओवरों में रन गति इतनी अच्छी नहीं थी लेकिन हम फिर भी 250 के करीब रन बनाने में सफल रहे जो काफी सकारात्मक चीज है।’

(इनपुट-भाषा)