India vs New Zealand: Once you get the experience, It’s just a mental adjustment, says Shikhar Dhawan
Shikhar Dhawan

न्यूजीलैंड के खिलाफ पहले वनडे में 75 रनों की पारी खेलकर अपने 5,000 वनडे रन पूरे करने वाले शिखर धवन का कहना है कि कीर्तिमान सफर का हिस्सा हैं। भारतीय सलामी बल्लेबाज ने कहा, “कीर्तिमान सफर का हिस्सा हैं। मैं इसे हासिल कर खुश हूं और आगे टीम के लिए लगातार रन बनाने की कोशिश करूंगा।”

बे ओवल में होने वाले दूसरे मैच से पहले प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान धवन ने विदेशी पिचों पर बल्लेबाजी को लेकर बात की। धवन का मानना है कि लंबे समय तक क्रिकेट खेलने के बाद विदेशी दौरों पर बल्लेबाजी करना थोड़ा आसान हो जाता है और आपको केवल मानसिक तौर पर बदलाव करने की जरूरत होती है।

ये भी पढ़ें: स्टीवन स्मिथ की जगह पाकिस्तान सुपर लीग में खेलेंगे आंद्रे रसेल

धवन ने कहा, “एक बार आपको अनुभव हो जाता है तो आपके लिए चीजें थोड़ी आसान हो जाती हैं और आपको पता होता कि क्या करना है और क्या नहीं करना। मैं अपनी ताकत का समर्थन करता हूं जो मेरी तकनीक को मदद करता है। बात केवल मानसिक बदलाव की होती है, एक बार मैं पिच पर होता हूं तो मैं अपने दिमाग में उस हालात के हिसाब से योजना बना लेता हूं।”

शीर्ष क्रम पर होती है मूमेंटम हासिल करने की जिम्मेदारी

काफी समय से सीमित ओवर फॉर्मेट में भारत के लिए सलामी बल्लेबाजी कर रहे धवन ने शीर्ष क्रम बल्लेबाजों की जिम्मेदारी पर कहा, “हम हमेशा योजना बनाते हैं कि हमारा शीर्ष क्रम ज्यादा रन बनाए और लंबे समय तक पिच पर टिका रहे। लेकिन ये लक्ष्य पर भी निर्भर करता है, हर मैच पर, स्कोर पर और कभी कभी मूड पर भी (धवन ने हंसते हुए कहा)। अगर लक्ष्य 300 से ज्यादा का है, तो हम धीरे नहीं खेल सकते। पहले 10 ओवर में बतौर सलामी बल्लेबाज हम जल्दी रन बनाकर मूमेंटम हासिल करना होता है।”

ये भी पढ़ें: शिखर धवन बहुत खतरनाक होते हैं, जब लय में हो- विराट कोहली

धवन आमतौर पर सलामी बल्लेबाज रोहित शर्मा के साथ पारी की शुरुआत करते हैं लेकिन पहला विकेट जल्दी गिरने के हालात में उन्हें तीसरे नंबर के बल्लेबाज विराट कोहली के साथ खेलना होता है। धवन का कहना है कि कप्तान कोहली के साथ उनका अच्छा तालमेल है। उन्होंने कहा, “हम स्ट्राइक रोटेट करते हैं और इससे दबाव नहीं बनता। अगर एक बाउंड्री मारता है तो इससे दूसरे को आत्मविश्वास मिलता है।”

स्क्वाड में कड़ी प्रतिद्वंदिता

विश्व कप 2019 के स्क्वाड में जगह बनाने को लेकर धवन ने कहा कि टीम में कड़ी प्रतिद्वंदिता है। उन्होंने कहा, “आप पृथ्वी शॉ को देख लें, जिस तरह से वो टेस्ट टीम में आया और शतक लगाया और फिर 70 रन बनाए। सभी को कड़ी मेहनत करनी होगी। हमारी टीम अच्छा कर रही है और बेंच स्ट्रेंथ भी मजबूत है।”