India vs South Africa, 1st Test: We can definitely chase more than 350, says Cheteshwar Pujara
चेतेश्वर पुजारा © AFP

भारत के खिलाफ पहले टेस्ट में मेजबान दक्षिण अफ्रीका फिलहाल 142 रनों की बढ़त पर है। दूसरे दिन का खेल खत्म होने तक दक्षिण अफ्रीका ने 65 रन के स्कोर पर 2 विकेट खो दिए थे लेकिन टीम के सबसे अहम बल्लेबाज हाशिम आमला अभी क्रीज पर हैं। टीम इंडिया चाहेगी कि तीसरे दिन दक्षिण अफ्रीकी टीम को जल्द से जल्द ऑल आउट करे और बड़ा स्कोर ना बनने दे। हालांकि भारतीय बल्लेबाज चेतेश्वर पुजारा ने कहा है कि उनकी टीम 350 के लक्ष्य का पीछा भी कर सकती है। पुजारा ने दूसरे दिन का खेल खत्म होने के बाद प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा, “ईमानदारी से कहूं तो हम किसी बड़े स्कोर का पीछा नहीं करना चाहते लेकिन इस समय जिस तरह का विकेट है, मुझे लगता है कि 350 के लक्ष्य का भी पीछा किया जा सकता है।”

पहली पारी में टीम इंडिया का बल्लेबाजी क्रम बुरी तरह बिखर गया था। पुजारा और रोहित शर्मा ने काफी देर तक पारी को संभाला लेकिन दूसरे दिन लंच तक दोनों ही पवेलियन पहुंच गए। पुजारा का मानना है कि दूसरी पारी में भारतीय बल्लेबाज बेहतर प्रदर्शन करेंगे। उन्होंने कहा, “पहली पारी में शीर्ष क्रम फेल हो गया लेकिन मुझे लगता है कि दूसरी पारी में हम बेहतर प्रदर्शन करेंगे और अगर हम लगातार अच्छी बल्लेबाजी करते हैं तो हम 350 का लक्ष्य भी हासिल कर लेंगे।”

डेल स्टेन भारत बनाम दक्षिण अफ्रीका टेस्ट सीरीज से बाहर
डेल स्टेन भारत बनाम दक्षिण अफ्रीका टेस्ट सीरीज से बाहर

दूसरे दिन भारतीय पारी दक्षिण अफ्रीकी गेंदबाजों को ओंधे मुंह गिर गई थी लेकिन हार्दिक पांड्या ने अपना टी20 स्टाइल बल्लेबाजी से टीम इंडिया को 209 के स्कोर तक पहुंचाया। पुजारा ने भी पांड्या की जमकर तारीफ की। उन्होंने कहा, “उसने काफी अच्छी बल्लेबाजी की और अपना चरित्र दिखाया। उसने घर से बाहर ज्यादा टेस्ट मैच नहीं खेले हैं लेकिन अगर उसे प्लेइंग इलेवन में शामिल किया गया था तो हमें उससे यही उम्मीद थी। मुझे लगता है कि कोई इस तरह का उभरता हुआ खिलाड़ी अच्छी बल्लेबाजी करता है, अच्छी गेंदबाजी करता है तो इससे टीम में काफी फर्क पड़ता है। एक ऑलराउंडर के टीम में होने से संतुलन रहता है। मैं उम्मीद करता हूं कि वो ये प्रदर्शन जारी रखेगा।”

टेस्ट मैच अपने तीसरे दिन में पहुंच चुका है और पिच का मिजाज भी कुछ बदलने लगा है। पुजारा का भी कुछ ऐसा ही मानना है, उन्होंने कहा, “पिच थोड़ी खराब हो चुकी है लेकिन मुझे लगता है कि अब भी तेज गेंदबाजों के लिए कुछ है और हम इसका फायदा उठाने की कोशिश करेंगे। हम उन हिस्सों पर गेंदबाजी करने की कोशिश करेंगे जहां सीम मूवमेंट है। हां, पिच बल्लेबाजी के लिए और बेहतर होती जा रही है लेकिन तेज गेंदबाजों के लिए अब भी कुछ है।”